News Nation Logo
Banner

अमेरिका ने जारी की नई ट्रेवल एडवाइजरी, बढ़ते रेप और अपराध के कारण भारत लेवेल 2 पर

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Tripathi | Updated on: 11 Jan 2018, 10:40:32 AM

नई दिल्ली:  

अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिये नई ट्रेवल एडवाइजरी जारी की है। जिसके अनुसार भारत को लेवल 2 पर रखा गया है जबकि वो भारत को 'मित्रवत' मानता आया है।

भारत को लेवेल 2 में रखे जाने के पीछे जो कारण बताए हैं उनमें आतंकी घटनाएं, विदेशी यात्रियों के साथ होने वाले अपराध, रेप और लूटपाट शामिल हैं। 

भारत को लेवेल 2 में रखे जाने का मतलब है कि वहां यात्रा करने के दौरान सावधान और सतर्क रहें। जबकि पाकिस्तान को लेवेल 3 पर रखा गया है जिसके अनुसार पाकिस्तान जाना खतरनाक करार दिया है और इस पर दोबार फैसला करें।

विभिन्न देशों में यात्रा करने को लेकर अमेरिका सुरक्षा के आधार पर लेवेल तय करता है। इन्हीं लेवल के आधार पर वीज़ा, एयरपोर्ट पर चेकिंग आदि को लेकर अमेरिका अपने नागरिकों को सावधान करता है।

और पढ़ें: लालू की पैरवी के लिए जज के पास आया फोन, CM योगी ने मांगी रिपोर्ट

लेवेल 1 के देश का अर्थ है कि नागरिकों को वहां पर सामान्य सावधानी बरतनी है। जबकि लेवेल 4 का अर्थ है कि नागरिक वहां की यात्रा न करें।

फिलहाल सभी देश अब नागरिकों की सुरक्षा को लेकर ट्रवेल एडवाइज़री जारी करते हैं और उसका लेवेल तय करते हैं।

अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा, 'इससे अमेरिकी नागरिकों को इससे सही जानकारी मिलेगी। दुनिया के देशों में उन्हें सुरक्षा से जुड़ी समय पर और सही जानकारी मिलेगी।'

भारत को लेवेल 2 पर रखने के पीछे कारण बताया है कि 'अपराध और आतंकवाद' को। हालांकि अमेरिका ने अपने नागरिकों को जम्मू-कश्मीर जाने से मना किया है, लेकिन लेह और लद्दाख जा सकते हैं। इसके साथ ही भारत पाकिस्तान की सीमा से 10 किलोमीटर के दायरे में भी जाने से मना किया है। क्योंकि वहां पर 'युद्ध का खतरा' रहता है।

और पढ़ें: पैलेट गन से आंख गंवाने वाली इंशा को गैस एजेंसी देगी जम्मू-कश्मीर सरकार

एडवाइज़री में कहा गया है, 'भारतीय प्रशासन का कहना है कि भारत में रेप की वारदातों में वृद्धि हुई है। खतरनाक अपराध, जैसे यौन उत्पीड़न की घटनाएं टूरिस्ट स्थानों और दूसरी जगहों पर बढ़ी हैं।'

इसके अलावा आतंकवाद और हथियारबंद संगठन पूर्व-मध्य में सक्रिय हैं। एडवाइज़री में कहा है, 'सरकारी संस्थानों, बाज़ारों, मॉल्स, टूरिस्ट स्थानों और यातायात के अड्डों पर आतंकवादी बिना चेतावनी दिये भी हमला कर सकते हैं।'

अमेरिका ने पाकिस्तान के बलोचिस्तान प्रांत में अपने नागरिकों को जाने से मना किया है।

और पढ़ें: सिख विरोधी 241 दंगों की जांच के लिये SC गठित करेगा विशेष दल

First Published : 11 Jan 2018, 10:18:13 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.