News Nation Logo
Banner

अनलॉक-5: 15 अक्टूबर से खुल सकते हैं स्कूल, केंद्र ने राज्यों को दी फैसला लेने की छूट

कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच देश में अनलॉक-5 आज से शुरू हो गया है. गृह मंत्रालय ने अनलॉक-5 में कई रियायतें दी हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 01 Oct 2020, 08:25:50 AM
Unlock 5

15 अक्टूबर से खुल सकते हैं स्कूल, केंद्र ने राज्यों पर छोड़ा फैसला (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच देश में अनलॉक-5 आज से शुरू हो गया है. गृह मंत्रालय ने अनलॉक-5 में कई रियायतें दी हैं. गृह मंत्रालय ने 15 अक्टूबर से सिनेमाघरों, थिएटर और मल्टीप्लेक्स को खोलने की अनुमति दे दी है. इसके अलावा 15 अक्टूबर से स्कूल और कोचिंग संस्थान खोले जा सकते हैं. हालांकि केंद्र ने इस पर फैसला लेने का अधिकार राज्य सरकारों को दिया है.

यह भी पढ़ें: आज से अनलॉक-5 की शुरुआत, जानें क्या-क्या मिली रियायतें, कौन से प्रतिबंध रहेंगे जारी

स्कूलों और कोचिंग संस्थानों पर दिशा-निर्देश

राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों की सरकारों को चरणबद्ध तरीके से 15 अक्टूबर के बाद स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को फिर से खोले जाने के बारे में निर्णय लेने की छूट दी गई है. स्कूलों और कोचिंग संस्थानों को फिर से खोलने के लिए, राज्य और केंद्र शासित प्रदेश की सरकारें 15 अक्टूबर के बाद क्रमबद्ध तरीके से ऐसा करने का निर्णय ले सकती हैं. स्थिति के आकलन के आधार पर संबंधित स्कूल और संस्थान प्रबंधन के साथ परामर्श करके निर्णय लिया जाएगा और यह कुछ शर्तों के अधीन होगा.

ऑनलाइन या दूरस्थ शिक्षा को शिक्षण के तरीके के रूप में प्राथमिकता दी जाएगी और इन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा. स्कूल जहां ऑनलाइन कक्षाएं संचालित कर रहे हैं, अगर कुछ छात्र भौतिक रूप से उपस्थित होने के बजाय ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेना पसंद करते हैं, तो उन्हें ऐसा करने की अनुमति दी जा सकती है. छात्र अभिभावकों की लिखित सहमति के बाद ही स्कूलों और संस्थानों में जा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: बाबरी विध्वंस पर विशेष अदालत का आया फैसला, तो प्रकाश राज ने यूं दिया रिएक्शन

केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय के स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा जारी एसओपी के आधार पर स्कूलों और संस्थानों को फिर से खोलने के लिए राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश स्वास्थ्य और सुरक्षा सावधानियों के बारे में अपनी एसओपी तैयार करेंगे. जिन स्कूलों को खोलने की अनुमति दी जाती है, उन्हें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के शिक्षा विभागों द्वारा जारी की जाने वाली एसओपी का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा.

शिक्षा मंत्रालय के तहत उच्च शिक्षा विभाग, कॉलेजों और उच्च शिक्षा संस्थानों के खुलने के समय पर स्थिति के आकलन के आधार पर गृह मंत्रालय से परामर्श कर निर्णय ले सकता है. हालांकि, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विषय में पीएचडी और स्नातकोत्तर छात्रों के लिए उच्च शिक्षा संस्थानों को 15 अक्टूबर से खोलने की अनुमति होगी. विज्ञान और प्रौद्योगिकी में प्रयोगशाला और प्रायोगिक कार्यों की आवश्यकता होती है.

यह भी पढ़ें: श्रीकृष्ण जन्मभूमि मालिकाना हक पर दायर याचिका को कोर्ट ने किया खारिज 

भारत में कोरोना का आंकड़ा 62 लाख के पार

गौरतलब है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने 25 मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन लगाये जाने की घोषणा की थी और इसे चरणबद्ध तरीके से 31 मई तक बढ़ाया गया था. देश में ‘अनलॉक’ प्रक्रिया की शुरूआत एक जून को हुई थी और चरणबद्ध तरीके से व्यापारिक, सामाजिक, धार्मिक और अन्य गतिविधियों को फिर से खोला गया. भारत में बुधवार को कोरोना वायरस के मामलों की कुल संख्या 62,25,763 पहुंच गई जबकि मृतकों की संख्या 97,497 हो गई.

First Published : 01 Oct 2020, 08:25:50 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो