News Nation Logo
Banner

कश्मीर में आज मनाया जा रहा है 'काला दिवस', 73 साल पहले पाकिस्तान ने कराई थी हिंसा

Black Day in Jammu-Kashmir: जम्मू कश्मीर में आज ही के दिन 73 साल पहले पाकिस्तानी सेना और कबाइलियों की कश्मीरियों के साथ बर्बरता की थी. भारत आज तक उस घटना को नहीं भूला है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 22 Oct 2020, 12:44:07 PM
Black Day

कश्मीर में 'काला दिवस' को लेकर लगाए गए पोस्टर (Photo Credit: न्यूज नेशन)

श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में आज काल दिवस (Black day) मनाया जा रहा है. आज ही के दिन 22 अक्टूबर 1947 को पाकिस्तानी आक्रमणकारियों ने अवैध रूप से जम्मू-कश्मीर में प्रवेश किया और लूटपाट और अत्याचार किए थे. इस दिन को भारत ब्लैक डे के रूप में मना रहा है. 

यह भी पढ़ेंः TRP घोटाला: महाराष्ट्र में CBI के प्रवेश पर रोक, उद्धव पर BJP हमलावर

पाकिस्तान ने किया था हमला
पाकिस्तानी सेना समर्थित कबायली लोगों के लश्कर (मिलिशिया) ने कुल्हाड़ियों, तलवारों और बंदूकों और हथियारों से लैस होकर कश्मीर पर हमला कर दिया, जहां उन्होंने पुरुषों, बच्चों की हत्या कर दी और महिलाओं को अपना गुलाम बना लिया था. निर्दयता के साथ पाकिस्तान हमले में बच्चों और महिलाओं के साथ क्रूरता की गई थी. मिलिशिया ने घाटी में पूरी संस्कृति को ही नष्ट कर दिया था. 73 साल पहले हुई इस घटना के कश्मीर के लोग अभी तक नहीं भूले हैं. 

यह भी पढ़ेंः नरवणे से पहले रॉ चीफ का काठमांडू दौरा, PM ओली से अहम होगी मुलाकात

ऐसे किया था हमला 
पाकिस्तान सेना ने प्रत्येक पठान जनजाति को 1,000 कबायलियों वाला लश्कर बनाने की जिम्मेदारी दी. उन्होंने फिर लश्कर को बन्नू, वन्ना, पेशावर, कोहाट, थल और नौशेरा में ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा. इन स्थानों पर पाकिस्तान के ब्रिगेड कमांडरों ने गोला-बारूद, हथियार और आवश्यक कपड़े प्रदान किए. 

 

First Published : 22 Oct 2020, 11:30:40 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो