News Nation Logo

चीनी सेना के झंडा फहराने का सच आया सामने, भारतीय जवानों ने भी लहराया तिरंगा

अब भारतीय जवानों की कुछ तस्वीरें सामने आई हैं. इसमें न्यू ईयर पर भारतीय जवान गलवान में तिरंगा झंडा फहराते नजर आ रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 04 Jan 2022, 03:45:32 PM
indian army

गलवान में तिरंगा झंडा फहराते भारतीय सैनिक (Photo Credit: twitter handle)

highlights

  • अभी हाल ही में चीनी सैनिकों के झंडा फहराने वाले वीडियो के वायरल हुआ था
  • चीन भारत और भारतीय सैनिकों के खिलाफ प्रोपेगेंडा भी चला रहा है
  • न्यू ईयर पर भारतीय जवान भी गलवान में तिरंगा झंडा फहराते नजर आ रहे हैं

नई दिल्ली:

गलवान घाटी में भारतीय सैनिक चीन के हर चाल को मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं. चीन भारत और भारतीय सैनिकों के खिलाफ प्रोपेगेंडा भी चला रहा है. जिसमें वह गलत वीडियो और तस्वीरों के माध्यम से भारतीय सैनिकों को हतोत्साहित करने का षडयंत्र रचता है. अभी हाल ही में चीनी सैनिकों के झंडा फहराने वाले वीडियो के वायरल हुआ था. इस वीडियो में चीनी सेना अपना झंडा फहराते नजर आ रहे थी. चीनी यूजर्स का दावा था कि चीनी सेना ने यह झंडा गलवान में हुई हिंसा वाली जगह पर फहराया है. जबकि, यह जगह उस पॉइंट से काफी दूर थी.

अब भारतीय जवानों की कुछ तस्वीरें सामने आई हैं. इसमें न्यू ईयर पर भारतीय जवान गलवान में तिरंगा झंडा फहराते नजर आ रहे हैं. इन तस्वीरों में भारतीय सैनिक राष्ट्रीय ध्वज फहराते नजर आ रहे हैं. साथ ही उनके पास हाल ही में सेना में शामिल की गईं नई सिग सॉर राइफलें नजर आ रही हैं. न्यू ईयर पर भारतीय जवानों ने तिरंगा फहराया था.

यह भी पढ़ें: PM मोदी आज मणिपुर दौरे पर, 22 विकास परियोजनाओं का करेंगे शुभारंभ  

15 जून 2020 को गलवान घाटी के पेट्रोल पॉइंट 14 पर भारत और चीनी सेना के बीच झड़प हुई थी. इस झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे. इसमें कर्नल संतोष बाबू भी शामिल थे. इसके बाद से दोनों देशों के बीच टेंशन काफी बढ़ गई थी. इस झड़प में चीन को भी काफी नुकसान पहुंचा था.

भारत लगातार PP 14 पर चीनी अधिग्रहण का विरोध करता रहा है. इसी वजह से यह झड़प हुई थी. इस झड़प के बाद दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ गया था. हालांकि, कई स्तर की बातचीत के बाद दोनों देश अपनी सेनाएं पीछे हटाने को तैयार हुए. इसके बाद विवादित जगह को बफर जोन बनाया गया है.

इसके अलावा PP 14 को नो पेट्रोल जोन बनाया गया है. दोनों देशों की सेनाएं इस जगह पर 1.5-1.5 किमी पीछे हट गई हैं. दोनों देशों ने बड़ी संख्या में सेना की तैनाती कर रखी है. दोनों सेनाएं एक दूसरे पर कड़ी नजर रख रही हैं. चीनी सेना का वीडियो भी बफर जोन से 1.5-2 किमी दूर है. इसी तरह से भारतीय जवानों ने जहां तिरंगा फहराया है, वह भी नो पेट्रोल जोन से बाहर है.

First Published : 04 Jan 2022, 03:45:32 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.