News Nation Logo

सोनिया गांधी से हमेशा अंतरिम अध्यक्ष पद का बोझ उठाने की अपेक्षा करना गलत- शशि थरूर

सोनिया गांधी से हमेशा अंतरिम अध्यक्ष पद का बोझ उठाने की अपेक्षा करना गलत- शशि थरूर

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 09 Aug 2020, 03:35:24 PM
शशि थरूर

शशि थरूर (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने बड़ा बयान दिया है. उनका कहना है कि सोनिया गांधी से हमेशा ये अपेक्षा करते रहना कि वह अनिश्चितकाल के लिए कांग्रेस की अतरिंम अध्यक्ष का बोझ उठाती रहें गलत हैं. इसी के साथ शशि थरूर ने ये भी कहा है कि कांग्रेस को पूर्ण-कालिक अध्यक्ष खोजने की प्रक्रिया तेज करनी होगी. 

बता दें, शशि थरूर का बयान ऐसे समय में आया है जब राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद सोनिया गांधी को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष का पद संभालते हुए एक साल से भी ज्यादा का वक्त हो गया है लेकिन अभी भी पार्टी अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार ढूंढने में नाकाम रही है. इसके लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की कई बार बैठकें भई हुई लेकिन हर बार बैठक बेनतीजा निकली. इसकी एक वजह ये भी बताई जाती है कि कई कांग्रेसी नेता चाहते हैं कि पार्टी का अध्यक्ष गांधी परिवार से ही कोई हो.

यह भी पढ़ें: रामजन्मभूमि के असली-नकली बयान के बाद नेपाली पीएम ने नरेंद्र मोदी को यूं दी नई चुनौती

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस में जारी आंतरिक रार भी थमने का नाम नहीं ले रही है. कांग्रेस में अनुभवी और नए नेताओं में गतिरोध की खबरों के बीच पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने शनिवार को अपने नौजवान साथियों को सलाह दी कि अपनी खुद की विरासत का अपमान नहीं करें और ऐसा करके वे केवल जनता की नजरों में पार्टी को कमजोर करने की भाजपा की सोच को ही बढ़ावा देंगे.

कई पूर्व केंद्रीय मंत्रियों ने पार्टी नेताओं को आगाह करते हुए कहा कि इस तरह की प्रवृत्ति ऐसे वक्त में कांग्रेस को बांट देगी जब एकजुटता की जरूरत है. उन्होंने यह भी कहा कि सभी को अतीत की पराजयों से सीख लेनी चाहिए और वैचारिक शत्रुओं के मनमाफिक चलने के बजाय पार्टी में नई जान डालनी चाहिए.

यह भी पढ़ें: जोधपुर में एक साथ 11 पाकिस्तानी शरणार्थियों की रहस्यमय मौत

आनंद शर्मा ने किया बचाव

कांग्रेस नीत संप्रग के बचाव में पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने कहा कि कोई अपनी ही विरासत का अपमान नहीं करता. इससे पहले पार्टी के युवा नेता राजीव सातव ने कांग्रेस के राज्यसभा सदस्यों की हाल ही में हुई एक बैठक में संप्रग के कामकाज पर सवाल उठाया था. राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता शर्मा ने कहा, 'कांग्रेस नेताओं को संप्रग की विरासत पर गर्व होना चाहिए. कोई पार्टी अपनी ही विरासत को अपमानित नहीं करती. भाजपा से परोपकार की या हमें श्रेय देने की उम्मीद नहीं की जा सकती, लेकिन हमारे अपने लोगों को सम्मान देना चाहिए.'

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 09 Aug 2020, 03:07:48 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.