News Nation Logo
Banner

नए कृषि कानूनों को लेकर गिरिराज सिंह ने संसद में विपक्ष पर बोला हमला

गिरिराज सिंह ने सोमवार को कहा, लोकसभा की कार्यवाही शनिवार को खत्म हुई. सदन के अंदर कृषि कानून पर बहस भी होती रही. विपक्ष काला कानून कहता रहा. जब सत्तापक्ष ने कहा कि खामियां तो बता दो.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 16 Feb 2021, 06:53:17 AM
Giriraj Singh

गिरिराज सिंह (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • गिरिराज सिंह ने विपक्ष पर बोला हमला
  • नए कृषि कानूनों की विपक्ष से पूछी खामियां
  • संसद में नए कृषि कानूनों पर विपक्ष को घेरा

नई दिल्ली:

केंद्रीय पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह ने कृषि कानूनों के मसले पर विपक्ष पर प्रहार किया है. उन्हों कहा कि संसद में कृषि कानूनों पर बहस होती रही, लेकिन विपक्ष के विद्वान एक भी खामी नहीं बता पाए. विपक्ष के भ्रम पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का धैर्य भारी पड़ा. गिरिराज सिंह ने सोमवार को कहा, लोकसभा की कार्यवाही शनिवार को खत्म हुई. सदन के अंदर कृषि कानून पर बहस भी होती रही. विपक्ष काला कानून कहता रहा. जब सत्तापक्ष ने कहा कि खामियां तो बता दो, लेकिन विपक्ष के विद्वान एक भी खामी नहीं बता पाए. गिरिराज ने कृषि मंत्री तोमर की तारीफ भी की.

उन्होंने कहा कि सदन में बहस के दौरान विपक्ष का कोई नेता कृषि कानूनों में कमी नहीं गिना पाया. इसलिए मैं कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के धौर्य की तारीफ करता हूं. विपक्ष के भ्रम पर कृषि मंत्री तोमर का धैर्य भारी पड़ा. आपको बता दें कि इसके पहले कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा था कि, नेहरू के शासन में भारत, चीन की आंखों में आंखें डालकर नहीं देख सकता था, लेकिन अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समय में न केवल आंखों में आंखें डालकर देख रहा है, बल्कि उससे मुकाबला करने की क्षमता भी रखता है. रविवार को पणजी में भाजपा की एक्जिक्यूटिव कमेटी की मीटिंग में पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा, नेहरू के समय में किसी ने भी चीन की आंखों में आंखें डालकर देखने की हिम्मत नहीं की. लेकिन मोदी न सिर्फ उन्हें आंखें दिखाते हैं, बल्कि उनका मुकाबला करने की क्षमता भी रखते हैं.

यह भी पढ़ेंःवामपंथी, टुकड़े-टुकड़े गैंग, कृषि आंदोलन कर मोदी को बदनाम कर रहे : गिरिराज

राहुल गांधी पर साधा निशाना
गिरिराज सिंह ने कहा कि चीन के खिलाफ देश की मजबूती की वजह पिछले कुछ सालों में रक्षा बजट में हुई बढ़ोतरी है. उन्होंने कहा कि 2009-14 के बीच, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार ने रक्षा खर्च के लिए लगभग 8.48 लाख करोड़ रुपये आवंटित किए थे, जबकि मोदी के पहले कार्यकाल में यह बजट 15.73 लाख करोड़ रुपये का था. उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर आरोप लगाया कि उन्होंने चीन के मामले में भारत के हितों के साथ समझौता किया है. मंत्री ने कहा, केवल कुछ करोड़ रुपयों के लिए राहुल गांधी कांग्रेस की ओर से चीन की वकालत कर रहे थे. वह भारत को नीचा दिखाने के लिए चीनी दूतावास गए थे.

यह भी पढ़ेंःनेहरू के शासन में भारत चीन की आंखों में आंखें डाल नहीं देख सकता था : गिरिराज

पीएम मोदी को बदनाम कर रहे टुकड़े-टुकड़े गैंग और वामपंथी
इसके पहले गिरिराज सिंह ने शनिवार को कहा था कि वामपंथी और 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कृषि क्षेत्र में उपलब्धियों को धूमिल, बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. भाजपा के राज्य मुख्यालय में यहां मीडिया को संबोधित करते हुए, मंत्री ने कहा कि पिछले यूपीए के शासनकाल की तुलना में एनडीए के शासनकाल के दौरान कृषि क्षेत्र के लिए बजटीय आवंटन में जबरदस्त वृद्धि हुई है. सिंह ने कहा, वामपंथी और 'टुकड़े-टुकड़े गिरोह' कृषि क्षेत्र में मोदी की उपलब्धियों को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं.

First Published : 16 Feb 2021, 06:52:45 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.