News Nation Logo

गोवा में कांग्रेस नेता का दावा, BJP में शामिल होने के लिए दिया 40 करोड़ का ऑफर

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 10 Jul 2022, 10:06:02 PM
Goa Congress Crisis

Goa Congress Crisis (Photo Credit: ANI)

पणजी:  

Goa congress Crisis : महाराष्ट्र में राजनीतिक उठापटक के बाद अब गोवा की राजनीति गरमाई गई है. अब इन दिनों गोवा (Goa) की राजनीति में सियासी हलचल देखी जा रही है. गोवा कांग्रेस (Goa Congress) के पूर्व अध्यक्ष गिरीश चोडनकर ने आरोप लगाया है कि पार्टी के विधायकों को भाजपा में शामिल होने के लिए 40 करोड़ रुपये की पेशकश की गई है. गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत के नेतृत्व वाले कम से कम छह विधायकों के बीजेपी शामिल होने की संभावना के बीच राज्य कांग्रेस में बगावत की जोरदार चर्चा के बीच ये सनसनी दावे सामने आए हैं. चोडनकर के मुताबिक, उद्योगपतियों और कोयला माफियाओं द्वारा कांग्रेस विधायकों को फोन किया जा रहा है. चोडनकर ने दावा किया कि संपर्क किए गए कुछ विधायकों ने कांग्रेस के गोवा प्रभारी दिनेश गुंडू राव को इस बारे में बताया.

यह भी पढ़ें : जल्द बहाल होगी अमरनाथ यात्रा, उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने घायल तीर्थयात्रियों से की बात  

हालांकि, बीजेपी ने आरोपों को खारिज कर दिया है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सदानंद तनावडे ने बताया कि कांग्रेस विधायकों से संपर्क करने और पैसे की पेशकश करने के बारे में निराधार आरोप लगा रही है. उन्होंने कहा, "वे यही करते रहे हैं और इन बातों का कोई सार नहीं है. गोवा भाजपा का कांग्रेस में भ्रम से कोई लेना-देना नहीं है और हमने इस संबंध में अपनी पार्टी से कुछ भी नहीं सुना है. 
हालांकि राज्य कांग्रेस पार्टी में दरार की खबरों का जोरदार खंडन करती रही है, लेकिन अधिकांश विधायक आज सुबह पार्टी की बैठक और शाम को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अफवाहों को हवा देते हुए शामिल नहीं हुए. इससे पहले दिन में कांग्रेस विधायक माइकल लोबो ने नेताओं के पक्ष बदलने की अफवाहों का खंडन किया.
दावों को खारिज करते हुए लोबो ने दावा किया कि 'असेंबली सत्र से पहले जानबूझकर अफवाहें फैलाई गई हैं. '"ये सब अफवाहें हैं. ऐसा कुछ भी नहीं है. विधानसभा सत्र शुरू हो रही है और किसी न किसी को अफवाह फैलानी है. उन्होंने कहा, मुझे नहीं बताया गया है. अगर मुझे बताया गया है, तो मैं आपको पहले बताऊंगा. 

गोवा कांग्रेस अध्यक्ष अमित पाटकर ने 'लोगों के बीच अफवाहें और भ्रम पैदा करने' के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा, "हमारे 11 में से आठ विधायक नए हैं. आज सदन में फ्लोर मैनेजमेंट पर एक बैठक हुई थी. हमारे वरिष्ठ विधायकों ने हमारे साथ चर्चा की थी. मुझे उम्मीद है कि सोमवार से आप देखेंगे कि कांग्रेस इस सरकार के खिलाफ (सदन में) सार्वजनिक मुद्दे उठा रही है, जो विफल रही है. "कांग्रेस विधायकों के भाजपा में शामिल होने की अटकलें मई में तब शुरू हुईं जब बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और पार्टी के राज्य प्रभारी सीटी रवि ने कहा कि भाजपा जिसके पास वर्तमान में 20 विधायक हैं, साल के अंत तक 30 विधायक होंगे. बीजेपी ने 20 विधायकों के साथ पांच अन्य के समर्थन से राज्य में सरकार बनाई है. 

First Published : 10 Jul 2022, 10:06:02 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.