News Nation Logo

राज्यसभा टीवी और लोकसभा टीवी का हुआ विलय, अब 'संसद टीवी' पर दिखेगी सदन की कार्यवाही

केंद्र सरकार ने लोक सभा टीवी और राज्य सभा टीवी को मिलाकर एक चैनल बनाने का बड़ा फैसला लिया है. इस नए चैनल का नाम संसद टीवी होगा.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 02 Mar 2021, 11:09:22 AM
Sansad TV

Sansad TV (Photo Credit: Lok Sabha & Rajya Sabha)

highlights

  • IAS रवि कपूर बने पहले CEO
  • एक साल तक रहेगा CEO का कार्यकाल
  • रवि कपूर कई मंत्रालयों में अपनी सेवाएं दे चुके हैं

नई दिल्ली:

देश की संसद की कार्यवाही देखने के लिए अभी तक आप दो अलग-अलग चैनलों पर जाते थे. मतलब यदि आपको लोकसभा की कार्यवाही देखनी होती थी तो आप लोकसभा टीवी देखते थे. और यदि आपको राज्यसभा की कार्यवाही देखनी होती थी, तो आप राज्यसभा टीवी देखते थे. लेकिन अब आपको संसद की कार्यवाही देखने के लिए दो अलग-अलग चैनलों का रुख नहीं करना पड़ेगा. क्योंकि केंद्र सरकार ने लोक सभा टीवी और राज्य सभा टीवी को मिलाकर एक चैनल बनाने का बड़ा फैसला लिया है. इस नए चैनल का नाम संसद टीवी होगा. संसद टीवी के पैनल के गठन का काम भी शुरु हो गया है. रिटायर आईएएस अधिकारी रवि कपूर को अगले आदेश तक या एक साल के लिए संसद टीवी का चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर (CEO) बनाया गया है. रवि कपूर इससे पहले पेट्रोलियम और टेक्सटाइल जैसे कई अहम मंत्रालयों में अपनी सेवाएं दे चुके हैं. 

यह भी पढ़ें- गुजरात तहसील पंचायत चुनाव- BJP, AAP और Congress का खाता खुला

जानकारी के मुताबिक लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और राज्यसभा के सभापति एम. वैंकेया नायडू के संयुक्त निर्णय के बाद ही इन दोनों चैनलों का आपस में विलय किया गया है. इस विलय के बारे में पिछले साल जून के महीने में सूचना दी गई थी जबकि सोमवार को राज्यसभा सचिवालय के कार्यालय द्वारा आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा की गई. दोनों चैनलों के विलय के लिए पिछले साल नवंबर में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और राज्यसभा के सभापति एम. वैंकेया नायडू ने एक पैनल का गठन किया था. और इसी पैनल की सिफारिशों पर इस निर्णय को लिया गया है. 

यह भी पढ़ें- कौन है मतुआ समुदाय? जिस पर बंगाल विधानसबा चुनाव में टिकी है BJP-TMC दोनों की नजर

बता दें कि लोकसभा टीवी चैनल की शुरुआत साल 1989 में हुई थी. जबकि राज्यसभा टीवी को साल 2011 में शुरु किया गया था. इन दोनों चैनलों पर अभी तक सदन की लाइव कार्यवाही के प्रसारण के अलावा हिंदी और अंग्रेजी भाषा में कई कार्यक्रमों का प्रसारण किया जा रहा था. इसके अलावा सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के विषय में भी इन चैनलों पर विस्तार से जानकारी दी जाती थी. 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 02 Mar 2021, 11:06:41 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.