News Nation Logo
Banner

राहुल गांधी का वार- किसान सड़कों पर धरना दे रहे हैं और 'झूठ' टीवी पर भाषण

तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों को आंदोलन और तेज होता जा रहा है. पिछले 6 दिन से हजारों की संख्या में किसान दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर डटे हुए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 01 Dec 2020, 10:02:49 AM
Rahul Gandhi

राहुल गांधी का वार- किसान सड़कों पर धरना दे रहे और 'झूठ' टीवी पर भाषण (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों को आंदोलन और तेज होता जा रहा है. पिछले 6 दिन से हजारों की संख्या में किसान दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर डटे हुए हैं. इन कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे किसानों के समर्थन में पंजाब के सिंगर से लेकर हरियाणा की खापें भी उतर आई हैं. कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल भी किसानों का समर्थन करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर हमलावर हैं. इस कड़ी में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर हमला बोला है.

यह भी पढ़ें: LIVE: सरकार के न्योते पर किसानों ने रखी ये शर्त, बोले- तब तक डटे रहेंगे 

दिल्ली में ठंड और कोरोना काल में जारी किसानों के प्रदर्शन को लेकर राहुल गांधी ने सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, 'अन्नदाता सड़कों-मैदानों में धरना दे रहे हैं और ‘झूठ’ टीवी पर भाषण! किसान की मेहनत का हम सब पर कर्ज है. ये कर्ज उन्हें न्याय और हक देकर ही उतरेगा, न कि उन्हें दुत्कार कर, लाठियां मारकर और आंसू गैस चलाकर. जागिए, अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए और किसान का अधिकार दीजिए.'

इससे पहले सोमवार को राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं और आम लोगों से किसानों के पक्ष में खड़े होने की अपील और कहा कि यह सत्य व असत्य की लड़ाई है, जिसमें सभी को अन्नदाताओं के साथ होना चाहिए. उन्होंने सवाल किया कि अगर ये कानून किसानों के हित में हैं तो फिर किसान सड़कों पर क्यों हैं? कांग्रेस के ‘स्पीक अप फॉर फार्मर्स’ नामक सोशल मीडिया अभियान के तहत एक वीडियो जारी कर राहुल गांधी ने कहा, 'देश का किसान काले कृषि कानूनों के खिलाफ ठंड में अपना घर-खेत छोड़कर दिल्ली तक आ पहुंचा है. सत्य और असत्य की लड़ाई में आप किसके साथ खड़े हैं - अन्नदाता किसान या प्रधानमंत्री के पूंजीपति मित्र के साथ?'

यह भी पढ़ें: कृषि कानून पर NDA में घमासान, हनुमान बेनीवाल ने अमित शाह को लिखा पत्र

उन्होंने कहा, 'देशभक्ति देश की शक्ति की रक्षा होती है. देश की शक्ति किसान है. सवाल यह है कि आज किसान सड़कों पर क्यों है? वह सैकड़ों किलोमीटर चलकर दिल्ली की तरफ क्यों आ रहा है? नरेंद्र मोदी जी कहते हैं कि तीन कानून किसानों के हित में हैं. अगर ये कानून किसानों के हित में है तो किसान इतना गुस्सा क्यों है, वह खुश क्यों नहीं है?' कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, 'ये कानून मोदी जी के दो-तीन मित्रों के लिए हैं, किसान से चोरी करने के कानून हैं.'

First Published : 01 Dec 2020, 09:59:52 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.