News Nation Logo
Banner

राहुल गांधी ने दी 'उत्तर-दक्षिण' की दुहाई, बीजेपी ने कहा मत करें 'विभाजनकारी राजनीति'

उत्तर औऱ दक्षिण भारत की राजनीति देश में काफी पुरानी है. ऐसे में केरल से सांसद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बयान देकर बर्र के छत्ते में हाथ डाल दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 24 Feb 2021, 08:18:36 AM
Rahul Gandhi

त्रिवेंद्रम में दिए अपने बयान पर बुरी तरह से घिरे राहुल गांधी. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • राहुल गांधी के त्रिवेंद्रम में दिए 'उत्तर-दक्षिण' बयान से उठा तूफान
  • स्मृति ने कहा 'एहसान फरामोश', योगी ने दिलाई अटलजी की याद
  • विदेश मंत्री एस जयशंकर ने तो समझा डाला भारत का 'भूगोल'

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल के साथ-साथ इस साल पांच राज्यों में चुनाव होने हैं. इनमें से एक केरल (Kerala) भी है. संभवतः इसीलिए बीते कुछ समय से कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) सूबे के कई दौरे कर चुके हैं. यह अलग बात है कि त्रिवेंद्रम में उनके उत्तर-दक्षिण भारत संबंधी दिए एक बयान से राजनीति गर्मा गई है. यहां तक कि विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) से लेकर यूपी की सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) से लेकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) और किरण रिजिजू तक उन पर हमलावर हैं. सीएम योगी और केंद्रीय मंत्री जयशंकर ने तो उन पर देश में 'विभाजनकारी राजनीति' करने तक का आरोप सीधे-सीधे मढ़ दिया है. 

राहुल गांधी ने कहा था ये
उत्तर औऱ दक्षिण भारत की राजनीति देश में काफी पुरानी है. ऐसे में केरल के वायनाड से सांसद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने त्रिवेंद्रम में एक बयान देकर बर्र के छत्ते में हाथ डाल दिया है. राहुल गांधी ने कहा, 'पहले 15 साल तक मैं उत्तर में एक सांसद था. मुझे एक अलग तरह की राजनीति की आदत हो गई थी. मेरे लिए केरल आना बहुत नया था, क्योंकि मुझे अचानक लगा कि यहां के लोग मुद्दों पर दिलचस्पी रखते हैं और न केवल सतही रूप से बल्कि मुद्दों को विस्तार से जानने वाले हैं.' इस बयान के निकलते ही अमेठी से सांसद औऱ केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से लेकर सीएम योगी तक हमलावर हो गए.

यह भी पढ़ेंः यमुना एक्सप्रेस-वे पर टैंकर ने इनोवा को रौंदा, जींद के एक ही परिवार के 7 मरे

स्मृति ने बताया 'एहसान फरामोश', तो सीएम योगी ने याद दिलाई अटलजी की बात
केंद्रीय मंत्री और अमेठी से सांसद स्‍मृति ईरानी ने भी राहुल गांधी पर तीखा हमला बोला. उन्‍होंने ट्वीट कर कहा, 'एहसान फरामोश! इनके बारे में तो दुनिया कहती है- थोथा चना बाजे घना.' उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ भी पीछे नहीं रहे. उन्होंने कहा, 'श्रीमान राहुल जी, श्रद्धेय अटल जी ने कहा था कि भारत जमीन का टुकड़ा नहीं, जीता जागता राष्ट्रपुरुष है. कृपया आप इसे अपनी ओछी राजनीति की पूर्ति के लिए 'क्षेत्रवाद' की तलवार से काटने का कुत्सित प्रयास न करें. भारत एक था, एक है, एक ही रहेगा. भारत माता की जय.'

यह भी पढ़ेंः 29 दिन बाद खुला सिंघु गांव का रास्ता, दिल्ली पुलिस ने हटाई बैरिकेडिंग

एस जयशंकर ने समझा दिया 'भूगोल'
देखते ही देखते विदेश मंत्री एस जयशंकर का ट्वीट भी राहुल गांधी के बयान के विरोध में सोशल मीडिया पर तैरने लगा. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने तीखा हमला देते हुए उत्तर और दक्षिण का जिक्र कर भारत का भूगोल समझा डाला. जयशंकर ने कहा कि मैं दक्षिण से ताल्लुक रखता हूं. मैं पश्चिमी राज्य से एक सांसद हूं. मैं उत्तर भारत में पैदा हुआ, पला-बढ़ा, वहीं पर शिक्षा हासिल की और वहीं पर काम भी किया. मैंने विश्व के समक्ष पूरे भारत का प्रतिनिधित्व किया. भारत एक है, इसको रीजन में कहकर डाउन मत करिए, इसे कभी मत बांटिए. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी इस मामले में राहुल गांधी को घेरा. उन्होंने कहा है कि कुछ दिनों पहले राहुल गांधी पूर्वोत्तर में थे तो पश्चिमी हिस्से के लिए जहर उगल रहे थे, आज दक्षिण में हैं तो उत्तर के लिए जहर उगल रहे हैं. फूट डालो और राजनीति से काम नहीं चलता राहुल गांधी जी. लोगों ने इस तरह की राजनीति को खत्म कर दिया है, देखिए गुजरात में आज क्या हुआ है.

First Published : 24 Feb 2021, 08:13:47 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.