News Nation Logo
Banner

पीएम मोदी ने 1.5 किमी लंबी मालगाड़ी को दिखाई हरी झंडी, बोले- न हम रुकेंगे-न हम थकेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (WDFC) के 306 किलोमाटर लंबे रेवाड़ी-मदार खंड का लोकार्पण किया.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 07 Jan 2021, 12:35:53 PM
Narendra Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Photo Credit: BJP (Twitter))

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (WDFC) के 306 किलोमाटर लंबे रेवाड़ी-मदार खंड का लोकार्पण किया. इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने इलेक्ट्रिक ट्रेक्शन द्वारा चलने वाली 1.5 किलोमीटर लंबी दुनिया की पहली डबल स्टैक लॉन्ग हॉल कंटेनर ट्रेन का भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इस मौके पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, राजस्थान और हरियाणा के मुख्यमंत्री मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें: जीतन राम मांझी ने राहुल-तेजस्वी पर कसा तंज, 'समय आने पर हनीमून मनाने चले जाते हैं' 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि न्यू अटेली से न्यू किशनगढ़ तक 1.5 किलोमीटर लंबी मालगाड़ियों की शुरुआत के साथ आज भारत दुनिया के गिने चुने देशों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा कि डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के इस प्रोजेट को 21वीं सदी में भारत के लिए गेम चेंजर के रूप में देखा जा रहा है। पिछले 5-6 वर्षों के कड़े परिश्रम के बाद आज इसका एक बड़ा हिस्सा हकीकत बन गया है.

उन्होंने कहा कि आज का दिन NCR, हरियाणा और राजस्थान के किसानों, उद्यमियों, व्यापारियों के लिए नए अवसर लाया है. डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर चाहे ईस्टर्न हो या वेस्टर्न ये सिर्फ मालगाड़ियों के लिए आधुनिक रुट नहीं हैं. ये देश के तेज विकास के कॉरिडोर हैं. मोदी ने कहा कि देश के इंफ्रास्ट्रक्चर को आधुनिक बनाने के लिए चल रहे महायज्ञ ने आज एक नई गति हासिल की है. बीते दिनों आधुनिक डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर के माध्यम से किसानों के खातों में सीधे 18,000 करोड़ रुपये से ज्यादा ट्रांसफर किए गए हैं.

यह भी पढ़ें: 'कोरोना और बर्ड फ्लू में फिलहाल कोई समानता नहीं, मगर इंसान में फैलने की संभावना'

पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली मेट्रो की एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर नेशनल कॉमन मॉबिलीट कार्ड की शुरुआत और ड्राइवरलेस मैट्रो की शुरुआत हुई. गुजरात के राजकोट में एम्स और ओडिशा में आईआईएम के स्थाई कैंपस की शुरुआत हुई. उन्होंने कहा कि आज वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का 306 किमी लंबा ये कॉरिडोर देश को समर्पित हुआ है. सोचिए, सिर्फ 10 - 12 दिन में इतना सबकुछ.  प्रधानमंत्री ने कहा, 'नए साल में जब देश का आगाज अच्छा है तो आने वाला समय और भी शानदार-जानदार होना तय है. इतने शिलान्यास इसलिए भी महत्वपूर्ण हैं क्योंकि भारत ने ये सब कोरोना संकट के कालखंड में किया है.'

मोदी ने कहा कि आज हर भारतीय का आह्वान है कि न हम रुकेंगे, न हम थकेंगे. हम सब भारतीय मिलकर और तेजी से आगे बढ़ेंगे. उन्होंने कहा कि कुछ ही दिन पहले भारत ने कोरोना की 2 मेड इन इंडिया वैक्सीन भी स्वीकृत की है. भारत की अपनी वैक्सीन ने देशवासियों में नया आत्मविश्वास पैदा किया है. मोदी ने कहा कि आज भारत में इंफ्रास्ट्रक्चर का काम 2 पटरियों पर एकसाथ चल रहा है. एक पटरी Individual व्यक्ति के विकास को आगे बढ़ा रही है और दूसरी पटरी पर देश के Growth engine को नई ऊर्जा मिल रही है.

यह भी पढ़ें: पहाड़ों पर भारी बर्फबारी जारी, मैदानी इलाकों में छाया रह सकता है घना कोहरा

पीएम मोदी ने कहा, 'आज हाईवे, रेलवे, एयर वे, वॉटर वे की कनेक्टिविटी पूरे देश में पहुंचाई जा रही है और तेजी से पहुंचाई जा रही है. अपने पोर्ट्स को ट्रांसपोर्ट के अलग अलग माध्यमों से कनेक्ट किया जा रहा है. पहले हमारे यहां रेलवे में बुकिंग से लेकर यात्रा समाप्ति तक शिकायतों का ही अंबार रहता था. साफ-सफाई, समय पर ट्रेन चले, सुविधा, सुरक्षा हर स्तर पर रेलवे में बदलाव करने की मांग होती रही. बदलाव के इन कामों को बीते वर्षों में गति दी गई है.'

First Published : 07 Jan 2021, 11:49:49 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.