News Nation Logo
Banner

मिट्टी बचाओ आंदोलन में हिस्सा लेंगे PM मोदी, दिल्ली में होगा कार्यक्रम

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 5 जून को सुबह 11 बजे विज्ञान भवन में 'मिट्टी बचाओ आंदोलन' पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे. कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री उपस्थित लोगों को भी संबोधित करेंगे. बता दें कि 'मिट्टी बचाओ आंदोलन' मिट्टी के बिगड़ते स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता बढ़ाने और इसे सुधारने के लिए जागरूक दायित्व कायम करने के लिए एक वैश्विक आंदोलन है.

News Nation Bureau | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 04 Jun 2022, 03:11:56 PM
Prime Minister Narendra Modi

Prime Minister Narendra Modi (Photo Credit: Twitter/ANI)

highlights

  • मिट्टी बचाओ आंदोलन से जुड़ेंगे पीएम मोदी
  • विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में लोगों को करेंगे संबोधित
  • दुनिया के कई देशों में मोटरसाइकिल चलाकर जागरुकता फैला रहे जग्गी वसुदेव

नई दिल्ली:  

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 5 जून को सुबह 11 बजे विज्ञान भवन में 'मिट्टी बचाओ आंदोलन' पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे. कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री उपस्थित लोगों को भी संबोधित करेंगे. बता दें कि 'मिट्टी बचाओ आंदोलन' मिट्टी के बिगड़ते स्वास्थ्य के बारे में जागरूकता बढ़ाने और इसे सुधारने के लिए जागरूक दायित्व कायम करने के लिए एक वैश्विक आंदोलन है. ताकि धरती को बंजर बनने से रोका जा सके.

जग्गी वसुदेव चला रहे हैं वैश्विक आंदोलन

सद्गुरु ने मार्च 2022 में इस आंदोलन की शुरुआत की थी, जिन्होंने 27 देशों से होकर 100 दिन की मोटरसाइकिल यात्रा शुरू की थी. 5 जून 100 दिन की यात्रा का 75वां दिन है. कार्यक्रम में प्रधानमंत्री की भागीदारी भारत में मृदा स्वास्थ्य में सुधार के प्रति साझा चिंताओं और प्रतिबद्धता को प्रतिबिंबित करेगी. जग्गी वसुदेव ने इस बारे में कहा है कि  मिट्टी बचाओ अभियान का मूल उद्देश्य मिट्टी के विलुप्त होने को संभालना है.

ये भी पढ़ें: Brain Dead युवक ने बचाई 8 जिंदगी, जानें- देश में अंगदान का पूरा हाल

74 देश कर चुके हैं अभियान का समर्थन

जग्गी वसुदेव ने मिट्टी बचाने के लिए सभी देशों को नीति बनाने की जरूरत जताई है. सद्गुरु ने कहा, आज सही नीतियां बनाने की जरूरत है. उन्होंने कहा, लोग मिट्टी के महत्व को नहीं समझ रहे है. 74 राष्ट्रों ने मिट्टी बचाओ अभियान पर हस्ताक्षकर किये. सद्गुरु ने कहा कि मिट्टी में जैविक सामग्री को बचाये रखने की जरूरत है. मिट्टी कोई हमारी प्रोपट्री नहीं है, यह हमारी पीढ़ी से मिली विरासत है. हमारी जिम्मेदारी है हम आने वाली पीढ़ी को भी इसे विरासत दे.

First Published : 04 Jun 2022, 02:54:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.