News Nation Logo

DMs से बोले PM Modi- एक्टिव केस कम होना शुरू... चुनौती बरकरार

देश में कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर पीएम मोदी ने आज भी देश भर के 54 जिलों के साथ संवाद किया. पीएम मोदी आज कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित 10 राज्यों के 54 जिलों के डीएम के साथ वर्चुअल बैठक की.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 20 May 2021, 01:19:13 PM
PM Modi

PM Modi (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • पीएम ने 10 राज्यों के 54 जिलाधिकारियों से संवाद किया
  • वायरस के म्युटेशन पर जताई चिंता, सतर्क रहने का कहा

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर की रफ्तार अब जाकर थोड़ी धीमी पड़ी है. हालांकि कई राज्यों में कोरोना (COVID-19) संक्रमण अभी भी बेकाबू स्थिति में हैं. पीएम मोदी (PM Modi) लगातार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं. वे लगातार राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद करके स्थिति का जायजा ले रहे थे. अब पीएम मोदी जमीनी हकीकत को जानने के लिए डायरेक्ट प्रशासन से संपर्क कर रहे हैं. उन्होंने आज भी देश भर के 54 जिलों के साथ संवाद किया. पीएम मोदी आज कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित 10 राज्यों के 54 जिलों के डीएम के साथ वर्चुअल बैठक की.

ये भी पढ़ें- भारत की बात दुनिया तक पहुंचाएगी सरकार, शुरू करेगी इंटरनेशनल टीवी चैनल

10 राज्यों के जिलाधिकारी मौजूद रहे

इस बैठक में इन जिलों में कोरोना संक्रमण के ताजा हालात और उन पर नियंत्रण पर चर्चा हो रही है. पीएम मोदी 10 राज्यों-छत्तीसगढ़, हरियाणा, केरल, महाराष्ट्र, ओडिशा, पुडुचेरी, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश के डीएम और फील्ड अधिकारियों के साथ बातचीत कर रहे हैं. इस बैठक में इन जिलों में कोरोना संक्रमण के ताजा हालात और उन पर नियंत्रण पर चर्चा हो रही है. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस ने आपके काम को और अधिक मांग और चुनौतीपूर्ण बना दिया है. 

कोरोना के म्युटेशन पर जताई चिंता

बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि दूसरी लहर के बीच वायरस म्यूटेशन की वजह से अब युवाओं और बच्चों के लिए ज्यादा चिंता जताई जा रही है. आपने जिस तरह से फील्ड पर काम किया है इसने इस चिंता को गंभीर होने से रोकने मदद तो की है, लेकिन हमें आगे के लिए तैयार रहना ही होगा. उन्होंने कहा कि जीवन बचाने के साथ-साथ हमारी प्राथमिकता जीवन को आसान बनाए रखने की भी है. गरीबों के लिए मुफ्त राशन की सुविधा हो, दूसरी आवश्यक सप्लाई हो, कालाबाजारी पर रोक हो, ये सब इस लड़ाई को जीतने के लिए भी जरूरी हैं, और आगे बढ़ने के लिए भी आवश्यक है.

ये भी पढ़ें- बंगाल में राजनीति की आड़ में हो रहा जिहाद, संघ चलाएगा अभियान

प्रभावी नीतियों को लागू करें

बैठक में पीएम ने कहा कि अपने जीवन से ठीक से काम करें और नियमित रूप से लागू करें और प्रभावी नीतियों को लागू करने में मदद करें. लागू होने वाली तकनीक में भी वैसी ही वैसी ही वैसी ही जैसी वैसी ही जैसी वैसी ही वैसी ही होती हैं. मोदी ने कहा कि पिछली महामारियां हों या फिर ये समय, हर महामारी ने हमें एक बात सिखाई है. महामारी से डील करने के हमारे तौर-तरीकों में निरंतर बदलाव, निरंतर इनोवेशन बहुत जरूरी है. ये वायरस म्यूटेशन में, स्वरूप बदलने में माहिर है, तो हमारे तरीके और रणनीतियां भी गतिशील होने चाहिए.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 20 May 2021, 12:59:20 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.