News Nation Logo

PM Modi ने की CM पटनायक की तारीफ, Yaas के प्रबंधन को लेकर कही ये बात

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के साथ बैठक के बाद प्रधानमंत्री ने उनकी जमकर तारीफ की. प्रधानमंत्री ने चक्रवात यास को लेकर मुख्यमंत्री द्वारा उठाए गए कदमों को सराहनीय बताया. उन्होंने कहा कि हम मिलकर काम करना जारी रखेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 29 May 2021, 09:04:03 AM
Naveen Patnaik PM Modi

Naveen Patnaik PM Modi (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • ओडिशा-बंगाल में यास ने जमकर मचाया कहर
  • मृतकों के परिजनों को 2 लाख की सहायता राशि का ऐलान
  • घायलों को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा

नई दिल्ली:

चक्रवाती तूफान 'यास' (Yaas Cyclone) तो गुजर गया, लेकिन अपने पीछे बर्बादी के निशान छोड़ गया. यास चक्रवात ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल में जमकर तबाही मचाई है. इस तूफान से हुए नुकसान का आंकलन करने के लिए पीएम मोदी (PM Modi) ने खुद दोनों राज्यों का दौरा किया. और तूफान से प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया. पीएम मोदी कल यानी शुक्रवार को भुवनेश्वर पहुंचे और चक्रवात यास के प्रभाव पर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (CM Naveen Patnaik) के साथ बैठक की. पीएम मोदी ने इस दौरान उन सभी लोगों के साथ अपनी पूरी एकजुटता व्यक्त की जो चक्रवात के कारण पीड़ित हुए और आपदा के दौरान अपने परिजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति गहरा दुख व्यक्त किया.

ये भी पढ़ें- जिस CAA पर हुआ था इतना बवाल, अब केंद्र सरकार ऐसे करेगी लागू

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के साथ बैठक के बाद प्रधानमंत्री ने उनकी जमकर तारीफ की. प्रधानमंत्री ने चक्रवात यास को लेकर मुख्यमंत्री द्वारा उठाए गए कदमों को सराहनीय बताया. उन्होंने कहा कि भुवनेश्वर में एक बहुत ही उपयोगी समीक्षा बैठक हुई. हम आपदा प्रबंधन क्षमताओं को मजबूत करने के लिए मिलकर काम करना जारी रखेंगे, एक ऐसा क्षेत्र जहां ओडिशा ने सराहनीय प्रगति की है.

प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को आश्वासन दिया कि केंद्र सरकार संकट की इस घड़ी में ओडिशा के साथ है. केंद्र की ओर से राज्य को हर संभव सहायता दी जाएगी. केंद्र सरकार ने यास चक्रवात में मारे गए लोगों के परिजनों को 2 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा भी की है. इसके अलावा राज्य के सीएम नवीन पटनायक ने बाढ़ प्रभावित जिलों के 128 प्रभावित गांवों के परिवारों के लिए 7 दिन की राहत की घोषणा कर दी है. 

ये भी पढ़ें- राजस्थान में ब्लैक फंगस का कहर, 1345 मरीज मिले, 50 की हुई मौत

बता दें कि चक्रवाती तूफान ताउते के बाद भारत ने साइक्लोन यास की तबाही झेली है. तूफान के मद्देनजर ओडिशा, पश्चिम बंगाल में लाखों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया था. हालांकि दोनों राज्यों में करीब आधा दर्जन लोगों की मौत हुई है. बता दें करीब 500 टीमें के द्वारा फंसे लोगों को बाहर निकाला जा रहा है. इसके अलावा रास्तों में पड़े उखड़े पेड़ों को भी हटाने का कार्य जारी है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, यास तूफान कमजोर होकर दक्षिण झारखंड से 75 किमी दूर पहुंच गया है. चाईबासा, मंदारनगर और रांची में अगले 24 घंटे बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 29 May 2021, 08:45:41 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.