News Nation Logo
भारत का लगातार तीसरा झटका, सूर्य कुमार यादव भी आउट प्रकाश झा की अपकमिंग मूवी आश्रम-3 की शूटिंग के दौरान बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 13 ओवर में 4 विकेट खोकर 87 रन बनाए T20: पाकिस्तान के खिलाफ भारत के 100 रन पूरे ICC T20 World Cup: विराट कोहली ने दिखाई बल्लेबाजी की क्लास, 18 गेंदों पर ठोके नाबाद 20 रन ICC T20 World Cup: 4 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर भारत ने बनाए 21 रन रोहित बिना खाता खोले आउट प्रभाकार कोर्ट में जवाब दें, सोशल मीडिया पर नहीं: एनसीबी प्रभाकर का एफिडेविट एनसीबी के डीजी को भेजा गया: एनसीबी आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव पहुंचे पटना, बेटों ने किया स्वागत जम्मू-कश्मीर: अमित शाह ने मकवाल में स्थानीय निवासियों के साथ बातचीत की 70 साल तीन परिवार वालों ने जम्मू-कश्मीर पर राज किया, आपने क्या दिया हिसाब दो: गृहमंत्री अमित शाह

पीएम मोदी ने घर पाने वाले लोगों को दिया टास्क, कहा- ऐसे प्रसन्न होंगे भगवान

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि यूपी आए हैं तो एक होमवर्क देने का मन कर रहा है. पीएम मोदी ने पीएम आवास पाने वाले परिवारों से कहा कि दिवाली के दिन अपने घर पर दो दीये जरूर जलाएं.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 05 Oct 2021, 02:40:19 PM
pm modi lucknow n

पीएम नरेंद्र मोदी (Photo Credit: ANI )

highlights

  • पीएम मोदी ने 75 जिलों के 75,000 लाभार्थियों को डिजिटल चाभी सौंपी
  • 4,737 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया

नई दिल्ली :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ में 'आजादी का अमृत महोत्‍सव' कार्यक्रम के तहत आयोजित तीन दिवसीय 'न्‍यू अर्बन इंडिया' कॉन्‍क्‍लेव का आज यानी मंगलवार को शुभारंभ किया. इसके साथ ही पीएम मोदी ने यूपी के लिए 4,737 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया. पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 75 जिलों के 75,000 लाभार्थियों को डिजिटल चाभी सौंपी. पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि यूपी आए हैं तो एक होमवर्क देने का मन कर रहा है. पीएम मोदी ने पीएम आवास पाने वाले परिवारों से कहा कि दिवाली के दिन अपने घर पर दो दीये जरूर जलाएं. उस दिन अयोध्‍या में साढ़े सात लाख दीये जलेंगे. उधर अयोध्‍या में दीये जलेंगे, इधर 9 लाख घरों में दो-दो दीयों का प्रकाश होगा, 18 लाख दीये जलेंगे. यह देखकर भगवान राम भी प्रसन्‍न होंगे.

लाभार्थियों से बात पीएम मोदी ने की

पीएम मोदी ने पीएम आवास के तहत घर पाने वाले लाभार्थियों से बातचीत में पूछा कि अब जब नया घर मिल गया है तो रिश्तेदारों का भी ज्यादा आना जाना होता होगा, खर्चा भी ज्यादा हो जाता होगा. जिस पर लाभार्थी ने हंसकर कहा कि हां रिश्तेदार पहले के मुकाबले ज्यादा आते हैं. पीएम मोदी ने मजाकिया अंदाज में कहा कि खर्चा ज्यादा होने पर पीएम पर आरोप लग सकते हैं कि उन्होंने घर दे दिया इसलिए गरीब का खर्चा बढ़ गया. 

वहीं ललितपुर की बबिता ने पीएम मोदी से कहा- मैं घर पर रहती हूं. अलग-अलग तरह का खाना बनाती हूं. इस पर पीएम मोदी ने मजाकिया अंदाज में कहा कि आप बताइए तो सही कि क्या-क्या बनाती हैं, मैं खाने नहीं आ जाऊंगा. 

लखनऊ ने अटल जी के रूप में राष्ट्रनायक देश को दिया

पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए आगे कहा कि मुझे विश्वास है कि ये चेयर अटल जी के विजन, उनके एक्शन, राष्ट्रनिर्माण में उनके योगदान को विश्व पटल पर लाएगी. जैसे भारत की 75 वर्ष की विदेश नीति में अनेक मोड़ आए लेकिन अटल जी ने उसे नई दिशा दी.लखनऊ ने अटल जी के रूप में एक विजनरी, मां भारती के लिए समर्पित राष्ट्रनायक देश को दिया है. आज उनकी स्मृति में, बाबा साहब भीमराव आंबेडकर यूनिवर्सिटी में अटल बिहारी वाजपेयी चेयर स्थापित की जा रही है.

इसे भी पढ़ें:दिल्ली सरकार ने डोर स्टेप डिलिवरी की फाइल एलजी बैजल को भेजा

पीएम आवास योजना के तहत शहरों में 1 करोड़ 13 लाख से ज्यादा घरों को मंजूरी

पीएम मोदी ने आगे कहा कि 2014 के बाद से हमारी सरकार ने पीएम आवास योजना के तहत शहरों में 1 करोड़ 13 लाख से ज्यादा घरों के निर्माण की मंजूरी दी है. इसमें से 50 लाख से ज्यादा घर बनाकर, उन्हें गरीबों को सौंपा भी जा चुका है.पीएम मोदी ने 2017 से पहले, उत्तर प्रदेश को पीएम आवास योजना के तहत 18,000 घरों को मंजूरी मिली थी. हालांकि, सरकार ने गरीबों के लिए शून्य घर बनाए. 2017 से अब तक शहरी गरीबों को योगी जी की सरकार में 9 लाख घर मिल चुके हैं. 

पीएम मोदी ने आगे कहा कि LED स्ट्रीट लाइट लगने से शहरी निकायों के भी हर साल करीब 1 हजार करोड़ रुपये बच रहे हैं. अब ये राशि विकास के दूसरे कार्यों में उपयोग में लाई जा रही है. LED ने शहर में रहने वाले लोगों का बिजली बिल भी बहुत कम किया है.

शहरी क्षेत्र में बहुत बड़ा परिवर्तन टेक्नोलॉजी से आया

पीएम मोदी ने कहा कि भारत में पिछले 6-7 वर्षों में शहरी क्षेत्र में बहुत बड़ा परिवर्तन टेक्नोलॉजी से आया है. देश के 70 से ज्यादा शहरों में आज जो इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर चल रहे हैं, उसका आधार टेक्नोलॉजी ही है.

First Published : 05 Oct 2021, 02:34:44 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.