News Nation Logo

सांसों पर संकटः पीएम मोदी ने 1 लाख पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर खरीदने की दी मंजूरी

पीएम मोदी ने पीएम कार्स फंड से 1 लाख पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर खरीदने की मंजूरी दी है. उन्होंने निर्देश दिया कि इन ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर को जल्द से जल्द खरीद लिया जाए और कोरोना से ज्यादा प्रभावित राज्यों में दिया जाए.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 28 Apr 2021, 05:41:30 PM
PM Modi

PM Modi (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • पीएम मोदी ने 1 लाख पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर खरीदने की मंजूरी दी
  • कोरोना से ज्यादा प्रभावित राज्यों को दिए जाएंगे पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर
  • 500 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट को भी मंजूरी मिली

नई दिल्ली:  

देश में कोरोना वायरस से कोहराम मचा हुआ है. हर रोज लाखों की संख्या में नए मरीज सामने आने से स्वास्थ्य सेवाओं का हाल बेहाल हो चुका है. अस्पतालों में बेड्स, दवाओं और ऑक्सीजन की कमी से मरने वालों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या दो लाख के पार हो गई है. दिल्ली और महाराष्ट्र पर कोरोना का सबसे ज्यादा कहर बरपा है. यहां मंगलवार को एक दिन में सबसे अधिक मौत के आंकड़े दर्ज किए गए. हालांकि इस स्थिति को संभालने के लिए केंद्र सरकार रात-दिन काम कर रही हैं. सांसों पर आए संकट को दूर करने के लिए अब पीएम मोदी ने 1 लाख पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर खरीदने की मंजूरी दे दी है. ये जानकारी पीएमओ ने दी है.

ये भी पढ़ें- Vccination Registration: CoWIN एप का सर्वर डाउन, आरोग्य सेतु भी नहीं कर रहा काम

500 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट को भी मंजूरी 

पीएमओ से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम कार्स फंड से 1 लाख पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर खरीदने की मंजूरी दी है. पीएम मोदी ने निर्देश दिया कि इन ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर को जल्द से जल्द खरीद लिया जाए और कोरोना से ज्यादा प्रभावित राज्यों को दिया जाए. इसके साथ ही पीएम-केयर्स कोष के तहत 500 नए पीएसए ऑक्सीजन प्लांट को मंजूरी दी गई है. पीएम मोदी का कहना है कि इससे विशेष रूप से जिला मुख्यालयों और टीयर-2 शहरों में ऑक्सीजन की पहुंच में सुधार होगा.

टीकाकरण पर जोर 

इस महामारी के बीच 1 मई से देश में कोरोना टीकाकरण का तीसरा चरण शुरू होने वाला है. इस चरण में 18 साल से ऊपर के युवाओं को भी वैक्सीन लेने की इजाजत दे दी गई है. कोरोना वैक्सीन के लिए 28 अप्रैल से रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुका है. 18 से 45 वर्ष के बीच के युवा बिना रजिस्ट्रेशन के वैक्सीन नहीं लगवा पाएंगे. फिलहाल देश में दो तरह की वैक्सीन लगाई जा रही है कोवैक्सीन (Covaxin) और कोविशिल्ड (Covishield). यह जरूरी है कि जिस वैक्सीन की पहली डोज लगवाई हो, नंबर आने पर दूसरी डोज भी उसी वैक्सीन की लगवानी होगी. 

ये भी पढ़ें- कोरोना को लेकर EC का बड़ा फैसला, उम्मीदवारों और एजेंटों के लिए कोविड रिपोर्ट अनिवार्य

वायुसेना प्रमुख से की मुलाकात

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया से मुलाकात की. इस मुलाकात में वायु सेना प्रमुख ने प्रधानमंत्री को वायु सेना द्वारा कोरोना काल में किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी. इस मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने ऑक्सीजन टैंकर और आवश्यक वस्तुओं की सुरक्षित तरीके से और तेज आवाजाही पर जोर दिया. साथ ही उन्होंने वायुसेना प्रमुख से ये भी कहा कि कोरोना से जुड़े इन ऑपरेशन के दौरान इस बात का भी विशेष ध्यान रखा जाए कि वायु सेना के कर्मी सुरक्षित रहें.

First Published : 28 Apr 2021, 05:16:09 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.