News Nation Logo

कश्मीर में लश्कर के आतंकी सेना की पोस्ट पर बड़े हमले की तैयारी में

पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar E Taiba) ने 12 जिहादियों को ट्रेनिंग दे कर भारत में घुसपैठ (Infiltration) करने के लिए तैयार किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 21 Aug 2020, 07:15:07 AM
Lashkar Kasmir

दर्झन भर लश्कर आतंकी घुसपैठ की फिराक में. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में ठंड का मौसम शुरू होने से पहले पाकिस्तान (Pakistan) में बैठे आतंकी भारत में घुसपैठ करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं. इसको लेकर खुफिया विभाग ने जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों को आगाह किया है. सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar E Taiba) ने 12 जिहादियों को ट्रेनिंग दे कर भारत में घुसपैठ (Infiltration) करने के लिए तैयार किया है. इन जिहादियों को लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) से भारत में घुसपैठ करा कर पाकिस्तान एक्शन बॉर्डर टीम ने भारतीय आर्मी (Indian Army)  पोस्ट पर बड़े हमले की योजना बनाई है.

यह भी पढ़ेंः LAC पार चीन की हर गतिविधि पर भारत की नजर, रडार पर चीन के 7 एयरबेस

दर्जन भर लश्कर आतंकी एलओसी पर जमे
खुफिया एजेंसी ने चेताया है कि रजौरी जिले के भिंभर गली (बीजी) सेक्टर में लश्कर-ए-तैयबा 6 जिहादियों को एक गाइड की मदद से भारत में प्रवेश कराने की कोशिश कर रहा है. खुफिया एजेंसी ने पुंछ सेक्टर में भी सुरक्षा बलों को अलर्ट किया है कि 6 जिहादी कमांडर अब्दुल फजल की मदद से एलओसी पार करने की कोशिश कर रहे हैं. सुरक्षा बलों का कहना है कि कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान हर संभव कोशिश कर रहा है कि जम्मू कश्मीर के लोगों को भड़काया जाए.

यह भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश न्यूज़ UP में फिर लव जिहाद के आरोप, लड़की ने लगाई जान बचाने की गुहार

सर्दियों में पाकिस्तान की नापाक चाल जाहिर
गर्मी का मौसम खत्म हो रहा है. ऐसे में पाकिस्तान हर संभव आतंकियों को घाटी में घुसाने की कोशिश में लगा हुआ है ताकि आतंकवादी गतिविधियां चलती रहे. एक सीनियर आईपीएस ऑफिसर ने कहा कि सुरक्षा बलों की आतंकी निरोधी ग्रिड इतना मजबूत है कि किसी भी तरह की घुसपैठ को रोका जा सकता है. उन्होंने कहा कि आतंकी गतिविधियों में स्थानीय लोगों की भागीदारी काफी हद तक कम हुई है और सुरक्षा बलों ने हिंसात्मक घटनाओं की संख्या को कम करने में भी काबू पाया है.

यह भी पढ़ेंः देश समाचार देश के कई हिस्सों में भारी बारिश से बाढ़ की स्थिति, जनजीवन प्रभावित

इसलिए हो रहा सीजफायर उल्लंघन
इसके अलावा सुरक्षा बल सीमा रेखा के उस पार पाक अधिकृत कश्मीर में टेरर लांच पैड पर भी नजर बनाए हुए है. जुलाई महीने के अंत तक पाकिस्तान ने 2,662 बार सीजफायर का उल्लंघन किया है. पिछले साल कुल 3,168 बार पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया था. अमूमन पाकिस्तान सीजफायर का उल्लंघन कर आतंकियों की घुसपैठ के लिए ही करता है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 21 Aug 2020, 07:15:07 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.