News Nation Logo
Banner

भारत के खिलाफ LAC पर चीन की मदद कर रही पाकिस्तान सेना

इंटरनेट यूजर्स दावा कर रहे हैं कि चीनी सेना भारत के साथ अपने सीमा विवाद को निपटाने के लिए पाकिस्तानी सेना की सहायता ले रही है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 05 Oct 2020, 07:22:14 AM
Pakistan Army PLA

चीनी पत्रकार के वीडियो से लिया गया फोटो. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

चीन की कम्युनिस्ट सरकार के मुखपत्र 'ग्लोबल टाइम्स' ने पूर्वी लद्दाख (Ladakh) में गलवान घाटी (Galwan Valley) संघर्ष के बाद ही भारत को आंखें तरेरनी शुरू कर दी थी. इस कड़ी में ग्लोबल टाइम्स की एक भविष्यवाणी सच हो रही है. समाचार पत्र ने कहा था कि युद्ध की स्थिति में भारत को पाकिस्तान (Pakistan) से भी मुकाबला करना होगा. ऐेसे में एक चीनी पत्रकार का वास्तविक नियंत्रण रेखा पर शूट किया गया वीडियो इस सच्चाई को सामने लाने का काम कर रहा है. यह वीडिय़ो बताता है कि चीन की पीएलए (PLA) सेना के जवानों को पाकिस्तान सेना मदद कर रही है.

यह भी पढ़ेंः जर्मनी में होने वाले 'डेयरिंग सिटीज 2020' में दिल्ली को मिला आमंत्रण

52 सेकंड का है वीडियो
चीनी पत्रकार शेन शीवई ने वास्तविक नियंत्रण रेखा पर यह वीडियो शूट किया है. इस आधार पर इंटरनेट यूजर्स दावा कर रहे हैं कि चीनी सेना भारत के साथ अपने सीमा विवाद को निपटाने के लिए पाकिस्तानी सेना की सहायता ले रही है. चीनी पत्रकार शेन शीवेई ने शनिवार को 52 सेकंड का वीडियो शेयर किया और कहा, 'यहां, हम चीनी पीएलए योद्धाओं से चीन-भारत एलएसी पर मिले. शायद उनमें से कुछ गलवान घाटी में भी तैनात थे.' इन सैनिकों को वीडियों में 'मातृभूमि मुझे नहीं भूलेगी' जैसा राष्ट्रवादी गीत गाते देखा जा सकता है.

यह भी पढ़ेंः कोरोना संक्रमित डोनाल्ड ट्रंप की हालात ज्यादा थी खराब, वाइट हाउस ने स्वीकार किया सच

दाढ़ी और ऊंचा कद कर रहा चुगली
कुछ रिपोर्ट्स में इस वीडियो में दिखने वाले दाढ़ी वाले व्यक्ति की पहचान को लेकर शक जाहिर किया गया, जो विश्लेषकों के अनुसार विशेषताओं, ऊंचाई और शारीरिक बनावट के मामले में अन्य सैनिकों की तुलना में 'अलग दिख रहा है.' गौरतलब है कि पीएलए सेना के साथ झड़पों के कारण भारत-चीन के बीच सीमा पर गतिरोध बना हुआ है. इसी के दौरान एक झड़प के परिणामस्वरूप जून में गलवान घाटी में 20 सैनिकों की मौत हो गई थी. चीन के सैनिकों ने गलवान घाटी में गश्त लगाने वाले प्वाइंट 14 के आसपास चीन द्वारा निगरानी चौकी के निर्माण का विरोध करने के बाद भारतीय सैनिकों पर स्टड, लोहे की छड़ और क्लबों का इस्तेमाल कर नृशंस हमला किया था.

First Published : 05 Oct 2020, 07:18:10 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो