News Nation Logo

एन वी रमना होंगे देश के अगले CJI, जस्टिस एस ए बोबडे ने सरकार को भेजी सिफारिश

परंपरा के मुताबिक मौजूदा चीफ जस्टिस एस ए बोबडे (SA Bobde) ने कानून मंत्रालय (Ministry of Law and Justice) को पत्र लिखकर दूसरे वरिष्ठतम जज जस्टिस एन वी रमना को अगला चीफ जस्टिस बनाने की सिफारिश की है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 24 Mar 2021, 11:52:18 AM
सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India)

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India) (Photo Credit: NewsNation)

highlights

  • चीफ जस्टिस एस ए बोबडे ने सरकार से दूसरे वरिष्ठतम जज जस्टिस एन वी रमना को अगला चीफ जस्टिस बनाने की सिफारिश की
  • मौजूदा चीफ जस्टिस एस ए बोबडे 23 अप्रैल 2021 को रिटायर हो रहे है. उनके बाद जस्टिस रमना देश के 48 वें चीफ जस्टिस होंगे

नई दिल्ली:

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India) के अगले मुख्य न्यायाधीश (Chief Justice of India) जस्टिस एन वी रमना (NV Ramana) होंगे. मौजूदा मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबडे (SA Bobde) ने उनके नाम की सिफारिश की है. परंपरा के मुताबिक मौजूदा चीफ जस्टिस एस ए बोबडे (SA Bobde) ने कानून मंत्रालय (Ministry of Law and Justice) को पत्र लिखकर दूसरे वरिष्ठतम जज जस्टिस एन वी रमना को अगला चीफ जस्टिस  बनाने की सिफारिश की है. गौरतलब है कि मौजूदा चीफ जस्टिस एस ए बोबडे 23 अप्रैल 2021 को रिटायर हो रहे है. उनके बाद जस्टिस रमना देश के 48 वें चीफ जस्टिस होंगे.

यह भी पढ़ें: कोरोना का कहर: 47 हजार से अधिक नए मामले, एक दिन में रिकॉर्ड 275 मौतें

गौरतलब है कि जस्टिस शरद अरविंद बोबडे (SA Bobde) अगले महीने रिटायर हो रहे हैं, ऐसे में उन्होंने अपने उत्तराधिकारी का नाम का सुझाव सरकार को दिया है. मौजूदा सीजेआई एसए बोबडे के रिटायर होने में कम समय रहने की वजह से सरकार ने नए मुख्य न्यायाधीश की नियुक्ति की प्रक्रिया को शुरू कर दिया है. सरकार ने इसी क्रम में मौजूदा मुख्य न्यायाधीश से उनके उत्तराधिकारी के नाम की सिफारिश मांगी गई थी. जस्टिस एसए बोबडे ने इस सिफारिश पर अपने उत्तराधिकारी के तौर पर एनवी रमना के नाम की सिफारिश कर दी है. 

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी का ममता पर तीखा वार, बोले- TMC के पाप का घड़ा भर चुका है

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने हाल ही में पत्र भेजकर रिटायर होने जा रहे जस्टिस बोबडे से नए मुख्य न्यायाधीश के नाम की सिफारिश मांगी थी. बता दें कि जस्टिस बोबडे ने 2019 में तत्काली मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई का स्थान लिया था. 24 अप्रैल 1956 में महाराष्ट्र के नागपुर में न्यायमूर्ति बोबडे का जन्म हुआ था. उन्होंने नागपुर विश्वविद्यालय से कला एवं कानून में स्नातक की उपाधि हासिल की है. 1998 में न्यायमूर्ति बोबडे वरिष्ठ अधिवक्ता बने. उन्होंने 21 साल तक नागपुर पीठ में सेवाएं दीं. जस्टिस बोबडे कई अहम मामलों में फैसला सुनाने वाली पीठ का हिस्सा रहे है. इनमें अयोध्या भूमि विवाद, निजता का अधिकार को मौलिक अधिकार और आधार को लेकर दिए अहम फैसले शामिल हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 24 Mar 2021, 11:18:09 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.