News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

12 जनवरी से शुरू होगी NEET PG की काउंसलिंग, स्वास्थ्य मंत्री ने किया ट्वीट

सुप्रीम कोर्ट में ऑल इंडिया कोटा मेडिकल सीटों में OBC को 27 प्रतिशत और EWS छात्रों को 10 प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने के लिए केंद्र और चिकित्सा परामर्श समिति (MCC) की 29 जुलाई की अधिसूचना को याचिका के जरिए चुनौती दी गई थी.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 09 Jan 2022, 07:37:22 PM
HEALTH MINISTER

मनसुख मांडविया, स्वास्थ्य मंत्री, भारत सरकार (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

नीट पीजी काउंसलिंग (NEET PG Counselling)12 जनवरी से शुरू होने जा रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह निर्णय सुप्रीम कर्ट के आदेश के बाद किया है. पिछले दिनों NEET PG Counselling को लेकर दिल्ली में रेसीडेंट डॉक्टर हड़ताल पर थे. तब स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने डाक्टरों को आश्वासन दिया था कि जल्द ही काउंसलिंग शुरू की जायेगी. स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट कर बताया कि NEET PG Counselling राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) पीजी काउंसलिंग 12 जनवरी से शुरू हो जाएगी. उन्होंने ट्वीट कर बताया कि रेसीडेंट डॉक्टर्स को स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दिए आश्वासन के अनुसार, माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद MCC द्वारा NEET-PG काउंसलिंग 12 जनवरी 2022 से शुरू की जा रही है. इससे कोरोना से लड़ाई में देश को और मज़बूती मिलेगी.

हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने NEET UG और PG में ओबीसी के लिए 27 प्रतिशत EWS के लिए 10 फीसदी आरक्षण प्रदान करने के केंद्र के फैसले को बरकरार रखते हुए NEET काउंसलिंग शुरू करने का रास्ता साफ कर दिया था. जिसके बाद मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) ने राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) यूजी, पीजी काउंसलिंग 2021 के संबंध में एक नोटिस भी जारी किया है. MCC द्वारा जारी नोटिस में छात्रों को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे में जानकारी दी गई. साथ ही यह भी आश्वासन दिया कि काउंसलिंग का शेड्यूल जल्द ही ऑफिशियल वेबसाइट mcc.nic.in पर जारी किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: नौकरी की चिंता छोड़ो! अब घर बैठे कमाएं 40 हजार रुपए महीना, जानें प्रक्रिया

कोर्ट इस मामले में मार्च महीने में विस्तृत सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट में ऑल इंडिया कोटा मेडिकल सीटों में OBC को 27 प्रतिशत और EWS छात्रों को 10 प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने के लिए केंद्र और चिकित्सा परामर्श समिति (MCC) की 29 जुलाई की अधिसूचना को याचिका के जरिए चुनौती दी गई थी. बता दें कि NEET Counselling में देरी की वजह से नए सेशन के एडमिशन अटके हुए थे. कोरोनाकाल में अस्पतालों में काम कर रहे रेजिडेंट डॉक्टर्स पर काम का भार बढ़ता जा रहा था, जिसके चलते डॉक्टरों ने बीते दिनों केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था.

First Published : 09 Jan 2022, 05:17:05 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.