News Nation Logo

मॉनसून सत्र के लिए BJP की रणनीति पर नड्डा ने वरिष्ठ मंत्रियों से चर्चा की

पार्टी के एक अंदरूनी सूत्र ने बताया कि बैठक रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर हुई और करीब तीन घंटे तक चली. बैठक में पार्टी प्रमुख नड्डा के साथ केंद्रीय मंत्री अमित शाह, धर्मेंद्र प्रधान, प्रह्लाद जोशी, भूपेंद्र यादव, अर्जुन राम मेघवाल और अन्य मौजूद थे.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 13 Jul 2021, 11:37:42 PM
JP Nadda

जेपी नड्डा (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्ली :

वरिष्ठ केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार को बैठक कर संसद के आगामी मानसून सत्र के लिए पार्टी की रणनीति पर चर्चा की. संसद का आगामी सत्र 19 जुलाई से शुरू हो रहा है. पार्टी के एक अंदरूनी सूत्र ने बताया कि बैठक रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर हुई और करीब तीन घंटे तक चली. बैठक में पार्टी प्रमुख नड्डा के साथ केंद्रीय मंत्री अमित शाह, धर्मेंद्र प्रधान, प्रह्लाद जोशी, भूपेंद्र यादव, अर्जुन राम मेघवाल और अन्य मौजूद थे. पार्टी के अंदरूनी सूत्र ने कहा, आगामी मानसून सत्र के लिए रणनीति पर चर्चा की गई. कोविड प्रबंधन, मुद्रास्फीति और अन्य जैसे मुद्दों पर विपक्षी हमलों का मुकाबला करने की रणनीति पर विस्तार से चर्चा की गई.

सरकार एक तूफानी सत्र की उम्मीद कर रही है जिसमें विपक्षी दलों को दूसरी लहर और ईंधन की कीमतों के दौरान कोविड प्रबंधन पर इसे घेरने की संभावना है. एक सूत्र ने कहा, यह तय किया गया था कि हम दूसरी लहर को रोकने के सरकारी प्रयासों और तीसरी लहर के प्रबंधन की योजनाओं और लोगों के लिए उपायों और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के उपायों पर प्रकाश डालते हुए विपक्ष के हमले का मुकाबला करेंगे.

केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल बनाए जाने के बाद भाजपा को राज्यसभा में नए नेता की नियुक्ति भी करनी है. संभावित प्रतिस्थापन के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और कुछ केंद्रीय मंत्रियों के नाम पहले से ही चल रहे हैं.  पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनावों के बाद यह पहला संसद सत्र होगा.

रविवार को नड्डा के घर हुई थी राष्ट्रीय सचिवों की बैठक
नरेंद्र मोदी 2.0 कैबिनेट में पहली बार हुए फेरबदल के बाद अब भारतीय जनता पार्टी ने साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए कमर कस ली है. पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राष्ट्रीय सचिवों के साथ भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में बैठक की थी. उसके बाद ये सभी लोग पीएम मोदी के साथ बैठक के लिए पीएमओ पहुंचे जहां अगले साल होने वाले 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों पर बैठक की.

केंद्रीय कैबिनेट के विस्तारण के बाद यह बैठक एक महत्वपूर्ण मोड़ पर हो रही है. भारतीय जनता पार्टी को अगले साल देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, मणिपुर और गोवा सहित  कुल 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारियों पर चर्चा के लिए बैठकें कर रही है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा की अगुवाई में पार्टी के राष्ट्रीय सचिवों की बैठक करीब एक घंटे तक चली. इस दौरान नड्डा ने संगठन की गतिविधियों और आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर राज्यों की समीक्षा की.

यह भी पढ़ेंःरविशंकर प्रसाद और प्रकाश जावड़ेकर को मिल सकती है चुनावी राज्यों की कमान!

राष्ट्रीय महासचिवों की नियुक्ति के बाद पहली बैठक में मिशन यूपी की शुरुआत
आपको बता दें कि पिछले साल राष्ट्रीय सचिवों की नियुक्ति के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ यह उनकी पहली आमने-सामने की बैठक रही. पार्टी के एक नेता ने कहा कि नड्डा के साथ बैठक के बाद महासचिवों ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात की . सूत्रों ने कहा कि नड्डा के साथ हुई राष्ट्रीय सचिवों की बैठक के दौरान संगठन द्वारा जारी गतिविधियों के साथ ही कोविड टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देने संबंधी गतिविधियों पर भी चर्चा हुई.

First Published : 13 Jul 2021, 11:31:50 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.