News Nation Logo

राजस्थान: आसमान में तेज रोशनी, पाकिस्तान बॉर्डर की तरफ बढ़े आग के गोले

राजस्थान में बुधवार देर रात भारत-पाकिस्तान बॉर्डर (India-pak Border) इलाके में आसमान में बहुत तेज रोशनी देखने को मिली. रोशनी के साथ ही तेज धमाका (Blast) भी हुआ. जिसने देखने वाले सब लोगों को बेहद हैरान कर दिया. यह घटना रात के करीब 9 बजे की है.

Written By : लाल सिंह फौजदार | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 23 Jun 2022, 01:46:28 PM
lights to Pakistan from India

lights to Pakistan from India (Photo Credit: Twitter/ePatrakaar)

highlights

  • रॉकेट जैसे लग रहे थे आग के गोले
  • पाकिस्तान की तरफ जाकर हुआ धमाका
  • गिरते हुए उल्कापिंड भी हो सकते हैं ये गोले

जयपुर:  

राजस्थान में बुधवार देर रात भारत-पाकिस्तान बॉर्डर (India-pak Border) इलाके में आसमान में बहुत तेज रोशनी देखने को मिली. रोशनी के साथ ही तेज धमाका (Blast) भी हुआ. जिसने देखने वाले सब लोगों को बेहद हैरान कर दिया. यह घटना रात के करीब 9 बजे की है. इस रहस्यमयी घटना (Mysterious Incident) ने सबको हैरान कर दिया है. ऐसा दृश्य देखने के बाद स्थानीय लोगों में सनसनी फैल गई. कुछ लोगों ने तो इस घटना को मिसाइल से जोड़कर देख लिया, जिसके बाद इस घटनाक्रम का वीडियो भी सोशल मीडिया पर अलग-अलग दावों के साथ शेयर किया जाने लगा.

100  किमी तक नजर आई रोशनी

इस रहस्यमयी घटना को राजस्थान के कई शहरों में देखा गया. बताया जा रहा है कि भारत-पाकिस्तान बॉर्डर इलाके में करीब 100 किलोमीटर की परिधि में यह रोशनी दिखाई दी. श्रीगंगानगर के सूरतगढ़ (Suratgarh) के अलावा बीकानेर, खाजूवाला और रावला जगहों तक इस रहस्यमय घटना को देखा गया.

भारत से पाकिस्तान की तरफ जा रहे थे आग के गोले

अब तक मिली जानकारी के अनुसार, यह कोई एक अकेली रोशनी की रेखा न होते हुए 8 से 10 आग के गोलों का समूह था. ये गोले पूर्व से पश्चिम यानि भारत से पाकिस्तान की तरफ जा रहे थे. यह भी बताया जा रहा है कि पाकिस्तान में जाने के बाद इन गोलों से एक बड़ा धमाका भी हुआ.

ये भी पढ़ें: एकनाथ शिंदे के साथ मौजूद सभी विधायकों के नाम जानिए, यहां है पूरी लिस्ट

गोले उल्कापिंड थे या कोई रॉकेट

शुरू में देखने में ये गोले बेशक किसी रॉकेट जैसे लगे हों और हमारी सुरक्षा एजेंसियों ने भी इन्हें देखकर उसी तरह से चौकसी दिखाई हो. लेकिन प्रारंभिक तौर पर एजेंसियां इसे उल्का पिंड टूटकर धरती की तरफ आने की घटना ही मान रही हैं. इस घटना की वीडियो भी सोशल मीडिया पर फैल रही है. स्थानीय प्रशासन अभी घटना की जांच में जुटा हुआ है.  23 दिसंबर 2020 को भी बीकानेर-सूरतगढ़ हाईवे पर रात में 6 उल्काओं के टूटने की घटना देखी गई थी.

First Published : 23 Jun 2022, 01:46:28 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.