News Nation Logo

पुलवामा हमले में शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की पत्नी निकिता ने ज्वाइन की आर्मी

मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल पुलवामा हमले में शहीद हो गए थे. पति की शहादत के बाद निकिता कौल ने भी भारतीय सेना ज्वाइन करके पति के सपने को पूरा किया. वे आज भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गई हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 29 May 2021, 03:10:26 PM
Nkita Kaul

Nkita Kaul (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • पुलवामा हमले में शहीद हो गए थे पति मेजर ढौंडियाल
  • निकिता ने पति के सपने को साकार किया
  • निकिता कौल ने भारतीय सेना ज्वाइन की

नई दिल्ली:

साल 2019 में हुए पुलवामा अटैक (Pulwama Attack) में भारतीय सेना के मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल (Major Vibhuti Shankar Dhoundiyal) भी शहीद हो गए थे. मेजर विभूति कश्मीर में 55 राष्ट्रीय राइफल्स में पोस्टेड थे. शहादत के समय उनकी शादी को केवल 9 महीने ही हुए थे और वह अपने पीछे 27 वर्षीय पत्नी निकिता कौल (Nikita Kaul) ढौंडियाल को छोड़कर गए थे. देश के लिए पति की शहादत पर निकिता को गर्व था, लेकिन सिर्फ 9 महीने में ही उनका साथ छूटने का गम भी था. इस गम से भी वो टूटी नहीं उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और आज उन्होंने पूरे जोश के साथ इंडियन आर्मी (Indian Army) में जॉइन कर ली है. अब वे अपने पति के सपने को साकार करेंगी. 

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार के इस कदम से आम आदमी को होगी बड़ी मदद: PHD Chamber

ओटीए, चेन्नई में कड़ी ट्रेनिंग के बाद वह आज भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गई हैं. इसके साथ ही आज उन्होंने अपना सपना पूरा करते हुए भारतीय सेना की वर्दी पहनी और शहीद मेजर विभूति शंकर को श्रद्धांजलि अर्पित की. ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में आयोजित पासिंग आउट परेड के बाद लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी ने निकिता ढौंडियाल के कंधे पर सितारे लगाकर उनको बधाई दी. लेफ्टिनेंट निकिता ने पिछले साल इलाहाबाद में वूमेन एंट्री स्कीम की परीक्षा पास की थी. 

वर्दी में उन्होंने अपनी शहीद पति को श्रद्धांजलि अर्पित की. शहीद मेजर विभूति शंकर धौंदियाल (Martyr Major Vibhuti Shankar Dhaundiyal) की पत्नी निकिता कौल (Nikita Kaul) भारतीय सेना में अधिकारी बनी हैं. सेना की उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी ने उनके कंधों पर स्टार लगाए. पहली बार आर्मी की वर्दी पहनने के बाद निकिता कौल भावुक हो गयीं. तमिलनाडु के चेन्नई में अधिकारियों की प्रशिक्षण अकादमी में उनके कंधे पर सितारे लगाए गए. रक्षा मंत्रालय, उधमपुर के पीआरओ ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इस समारोह का वीडियो शेयर किया है.

ये भी पढ़ें- विदेश मंत्री ने राहुल गांधी के हमले का दिया जवाब, US यात्रा पर कही ये बातें

बता दें कि साल 2019 के पुलवामा हमले में मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल शहीद हो गए थे. उनका पार्थिव शरीर जब घर लाया गया था. उनकी पत्नी निकिता ने सैल्यूट कर अपने पति को अंतिम विदाई दी थी और तभी सेना में सेवा करने का मन बना लिया था. उन्होंने जब अपने पति के कान में अंतिम बार I Love You बोला तो वहां मौजूद सभी लोगों की आंखों में आंसू आ गए थे. मेजर ढौंडियाल ने देश के लिए अपना फर्ज निभाते हुए अपनी पत्नी को सिर्फ 9 महीने में ही छोड़कर चले गए. मेजर ढौंडियाल जैसे वीर सपूतों का भारत हमेशा से कर्जदार रहेगा.

First Published : 29 May 2021, 02:46:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.