News Nation Logo

SC पहुंचा महाराष्ट्र का सियासी घमासान, अदालत से की गई ये बड़ी मांग

महाराष्ट्र में चल रहे सियासी गतिरोध के बीच कांग्रेस नेता जया ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में  याचिका दायर की है. इस में अदालत से मांग की गई है कि विधानसभा से त्यागपत्र देने वाले या अयोग्य ठहराए जा चुके विधायकों के चुनाव लड़ने पर 5 वर्ष तक रोक लगनी चाहिए.

News Nation Bureau | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 22 Jun 2022, 11:47:18 PM
Supreme Court

SC पहुंचा महाराष्ट्र का सियासी घमासान, अदालत से की गई ये बड़ी मांग (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • सदन से त्यागपत्र देने वाले या अयोग्य ठहराए गए प्रतिनिधियों पर कार्रवाई की मांग
  • लोकतंत्र को शर्मसार करने वाले प्रतिनिधियों के चुनाव लड़ने पर हो 5 साल तक रोक
  • याचिका में राजनैतिक दल पर देश के लोकतांत्रिक ढांचे को बिगाड़ने का लगाया आरोप

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र में चल रहे सियासी गतिरोध के बीच कांग्रेस नेता जया ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में  याचिका दायर की है. इस याचिका में देश की सर्वोच्च अदालत से मांग की हई है कि विधानसभा से त्यागपत्र देने वाले या अयोग्य ठहराए जा चुके विधायकों के चुनाव लड़ने पर पांच साल तक रोक लगनी चाहिए. याचिका में महाराष्ट्र में चल रहे सियासी संकट का हवाला देते हुए कोर्ट से हस्तक्षेप की मांग की गई है. इसके साथ ही कहा गया है कि राजनैतिक दल देश के लोकतांत्रिक ढांचे को बिगाड़ने में लगे हैं. इसलिए कोर्ट के दखल की तुरंत जरूरत है.

पहले की याचिका पर अभी तक नहीं दिया गया जवाब
जया ठाकुर ने इस अर्जी में कहा है कि पिछले साल भी उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर बताया था कि कैसे दलबदल विरोधी कानून को धता बताकर सरकार गिराई जा रही है. विधानसभा से त्यागपत्र देने वाले विधायक नई सरकार में मंत्री बन जाते हैं. तब कोर्ट से नोटिस जारी होने के बावजूद अभी तक सरकार का जवाब नहीं आया है, जबकि राजनीतिक दल इसका नाजायज फायदा उठा रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे का ऑफर ठुकराया, जानें क्या कहा

महाराष्ट्र में  मचा है सियासी घमासान
गौरतलब है कि महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी के प्रमुख घटक शिवसेना अभी पार्टी में टूट-फूट का सामना कर रही है. पार्टी वरिष्ठ नेता एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में लगभग 40 विधायकों ने पार्टी नेतृत्व से बगावत कर दी है. ये सभी नेता असम में डेरा जमाए हुए हैं. ये ने शिवसेना के कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन से अलग होकर भाजपा के साथ गठबंधन सरकार बनाने की मांग कर रहे हैं. पार्टी के ताम प्रयास के बावजूद जब बात नहीं बनी तो महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सीएम आवास खाली करना शुरू कर दिया है. गौरतलब है कि इससे पहले उन्होंने फेसबुक लाइव में जनता को संबोधित करते हुए कहा था बागी विधायकों को सामने आकर बातचीत करने का न्योता दिया था. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि अगर विधायक कहेंगे तो मैं मुख्यमंत्री के साथ ही पार्टी का अध्यक्ष पद भी छोड़ने को तैयार हूं. 

First Published : 22 Jun 2022, 11:47:18 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.