News Nation Logo

Corona कहर एक महीने में क्या होगा कोई नहीं जानता, नितिन गडकरी ने चेताया

कोरोना वायरस और कितना खतरनाक होगा और कब तक चलेगा, इसकी कोई गारंटी नहीं है. घर के घर कोविड ग्रस्त हैं और आने वाले 15 दिन या 1 महीने में क्या होगा यह कहना मुश्किल है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 15 Apr 2021, 09:29:28 PM
Nitin Gadkari

नागपुर में नितिन गडकरी ने बेलौस अंदाज में चेताया. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • आने वाले एक महीने में क्या होगा कहना मुश्किल
  • नितिन गडकरी ने कोरोना की भयावहता पर चेताया
  • नागपुर में किया कोरोना देखभाल केंद्र का उद्घाटन

नागपुर:

कोरोना संक्रमण (Corona Epidemic) की यह लहर किस कदर खौफनाक साबित होने वाली है, इसका अंदाजा विशेषज्ञों और केंद्रीय मंत्रियों की चेतावनियों और नसीहतों को देखकर ही लगाया जा सकता है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) का कहना है कि कोरोना वायरस और कितना खतरनाक होगा और कब तक चलेगा, इसकी कोई गारंटी नहीं है. घर के घर कोविड ग्रस्त हैं और आने वाले 15 दिन या 1 महीने में क्या होगा यह कहना मुश्किल है. उन्‍होंने कहा कि लोगों को सर्वश्रेष्ठ के लिए सोचना चाहिए, लेकिन सबसे खराब के लिए भी तैयार रहना चाहिए. इस महामारी से निपटने के लिए दीर्घकालिक प्रबंधों की जरूरत है.

कोविड-19 देखभाल केंद्र का उद्घाटन
नितिन गडकरी ने गुरुवार को यहां राष्ट्रीय कैंसर केंद्र में 100 बिस्तर के निजी कोविड-19 देखभाल केंद्र का उद्घाटन किया. इस अवसर पर बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस भी मौजूद थे. गडकरी ने महामारी से निपटने के लिए दीर्घकालिक प्रबंधों की आवश्यकता पर जोरे देते हुए कहा, 'स्थिति अत्यंत गंभीर है और कोई नहीं जानता कि यह कब तक रहेगी.'

यह भी पढ़ेंः दिल्‍ली में वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्‍या-क्‍या खुला रहेगा और क्‍या बंद

विशाखापत्‍तनम से ऑक्‍सीजन सप्‍लाई
नागपुर से सांसद गडकरी ने भिलाई से यहां के अस्पतालों के लिए 40 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति के बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि एम्स नागपुर में 300 बिस्तर और जोड़े जा रहे हैं तथा अस्पताल के लिए विशाखापत्तनम से ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है. गडकरी ने विशाखापत्तनम के मेडिकल 'डिवाइसेज पार्क' से एक हजार वेंटिलेटर जुटाए जाने के बारे में भी जानकारी दी जो नागपुर के अस्पतालों को उपलब्ध कराए जाएंगे'

यह भी पढ़ेंः नवजात शिशु, युवा इस नई लहर के कोरोना संक्रमण से ग्रसित!

रेमडेसिविर की कमी का निदान जल्द
रेमडेसिविर की कमी के बारे में गडकरी ने कहा कि देश में केवल चार दवा कंपनियों के पास ही कोविड-19 रोधी इस दवा का निर्माण करने का लाइसेंस है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने बुधवार को इस दवा के निर्माण के लिए आठ और कंपनियों को अनुमति दे दी जिससे रेमडेसिविर की कमी का समाधान हो जाएगा. वहीं, देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि नागपुर में बड़ी संख्या में महामारी के मामले सामने आ रहे हैं जिससे अस्पतालों में बिस्तरों, दवाओं और ऑक्सीजन के भंडार की कमी हो गई है. उन्होंने कहा, 'स्थिति को देखते हुए हमने लोगों के इलाज के लिए राष्ट्रीय कैंसर केंद्र में कोविड-19 देखभाल केंद्र की स्थापना की है.'

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 15 Apr 2021, 09:27:04 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.