News Nation Logo

By Election Live : एमपी में गरीबों को कोरोना की वैक्सीन मुफ्त : शिवराज

सुप्रीम कोर्ट में अब्दुल्ला आजम का केस पेंडिंग होने की वजह से चुनाव न कराने की चुनाव आयोग की दलील भी हाईकोर्ट ने ठुकरा दी. याची के अधिवक्ता विक्रांत पांडेय के अनुसार स्वार विधानसभा की सीट का चुनाव इलाहाबाद HC ने 16 दिसंबर 2019 को रद्द कर दिया था.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 23 Oct 2020, 11:52:54 AM
By Election in 11 States

उपचुनाव Live अपडेट (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के रामपुर की स्वार विधानसभा में हाईकोर्ट ने चुनाव कराने का आदेश दिया है. यहां के विधायक अब्दुल्ला आजम का निर्वाचन हाईकोर्ट द्वारा रद्द किए जाने की वजह से खाली हुई है. रामपुर के स्वार तहसील की नगर पालिका परिषद के पूर्व अध्यक्ष शफीक अहमद की अर्जी पर हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया है. यह आदेश न्यायमूर्ति शशिकांत गुप्ता और न्यायमूर्ति पंकज भाटिया की खंडपीठ ने दिया.

यह भी पढ़ें : बिहार चुनाव में PM मोदी और राहुल गांधी की आज होगी एंट्री

उत्तर प्रदेश में सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है. वहीं, सुप्रीम कोर्ट में अब्दुल्ला आजम का केस पेंडिंग होने की वजह से चुनाव न कराने की चुनाव आयोग की दलील भी हाईकोर्ट ने ठुकरा दी. याची के अधिवक्ता विक्रांत पांडेय के अनुसार स्वार विधानसभा की सीट का चुनाव इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 16 दिसंबर 2019 को रद्द कर दिया था. क्योंकि वहां के निर्वाचित विधायक अब्दुल्ला खान ने गलत जन्मतिथि प्रमाणपत्र के आधार पर चुनाव लड़ा था.

LIVE TV NN

NS

NS

कोविड 19 के कारण 9 ज़िलों में चुनाव रैलियों पर रोक को लेकर मध्य प्रदेश HC के फैसले के खिलाफ चुनाव आयोग सुप्रीम कोर्ट पहुंचा. आयोग ने एमपी हाई कोर्ट की ग्वालियर बेंच के बुधवार के आदेश को चुनौती दी.


याचिका में कहा गया है कि में अनुच्छेद 324 और सुप्रीम कोर्ट के पूर्व के फैसलों में दी गई व्यवस्था के मुताबिक चुनाव कराना, पूरी प्रकिया की निगरानी करना इलेक्शन कमीशन का काम है, चुनाव प्रकिया शुरू होने के बाद अदालती दखल का औचित्य नहीं. 


HC के फैसले में  वर्चुअल रैली कराने और उसके बजाए चुनावी रैली कराने की एवज में लगाई गई शर्ते व्यवहारिक तौर पर ठीक नहीं. इनसे आयोग का काम प्रभावित होगा. चुनावी खर्चे बढेंगे.


हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि मजिस्ट्रेट तब तक रैली की अनुमति नहीं दें जब तक उम्मीदवार या पार्टी यह साबित नहीं कर दे कि वर्चुअल रैली संभव नहीं है.

एमपी में गरीबों को कोरोना की वैक्सीन मुफ्त : शिवराज


मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जिन लोगों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं हेागी, उन लोगों को मुफ्त में कोरोना की वैक्सीन लगवाई जाएगी. मुाख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा है कि, जब से देश में कोविड-19 वैक्सीन का ट्रायल शुरू हुआ, देश के गरीब वर्ग में एक चर्चा भी शुरू हुई, 'क्या हम ये खर्च वहन कर पाएंगे'? मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं, मध्य प्रदेश में हर एक गरीब प्रदेशवासी को मुफ्त वैक्सीन मिलेगी. हम ये जंग जीतेंगे.

बता दें कि भाजपा ने बिहार में अपने घोषणापत्र में पूरे प्रदेश में मुफ्त कोरोना वैक्सीन देने का वादा किया है जिसके बाद दूसरे राज्यों में भी मुफ्त टीकाकरण की मांग उठने लगी है.

'दिमनी में कमलनाथ ने ‘आइटम’ कहा होता तो उनकी लाश जाती'


मध्य प्रदेश उपचुनाव में नेताओं के बोल लगातार बिगते जा रहे हैं. मुरैना के दिमनी से बीजेपी उम्मीदवार गिर्राज डण्डौतिया ने एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान को लेकर उनपर पलटवार किया है और विवादित बयान दिया. बीजेपी उम्मीदवार गिर्राज डण्डौतिया ने कहा, कमलनाथ ने यहां ‘आइटम’ कहा होता तो उनकी लाश जाती.

आज कमलनाथ को चुनाव आयोग को देना होगा जवाब


आज शाम तक कमलनाथ को 'आइटम' वाले बयान पर चुनाव आयोग के नोटिस का जवाब देना है. कमलनाथ भी आइटम वाले बयान पर मचे बवाल के बाद डैमेज कंट्रोल में जुटे नजर आ रहे हैं. शिवपुरी की रैली में कमलनाथ ने मंच पर ही पांच महिलाओं से राखी बंधवा ली.

बांके बिहारी मंदिर खुलवाने के लिए मथुरा के विधायक और ऊर्जामंत्री ने CM को लिखी चिट्ठी


यूपी में उपचुनाव के बीच मथुरा जिले के बांकेबिहारी मंदिर को भक्तों के दर्शनार्थ खुलवाने के लिए विधायक और राज्य के ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा ने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है. ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा के पत्र की मीडिया को जारी की गई प्रति के अनुसार शर्मा ने मुख्यमंत्री को लॉकडाउन के बाद मंदिर खुलने और दो दिन बाद ही बंद कर दिए जाने का हवाला देते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार के कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत ही राज्य के मंदिरों को खुलवाया है.


उन्होंने लिखा है कि इसी बीच वृन्दावन का बांकेबिहारी मंदिर भी खुला परंतु, दो दिन बाद ही अव्यवस्थाओं के चलते इसे अप्रत्याशित रूप से बंद करा दिया गया. उन्होंने मंदिर खुलवाने का अनुरोध मुख्यमंत्री से किया. गौरतलब है कि करीब आठ माह बाद शनिवार को खोले गए मंदिर को 19 अक्टूबर को पुनः बंद करा दिया गया था.

BJP का कोरोना की मुफ्त वैक्सीन का वादा सिर्फ बिहार के लिए क्यों? : अखिलेश


समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के घोषणापत्र में मुफ्त कोरोना वैक्सीन के वादे को लेकर सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि ऐसी घोषणा उत्तर प्रदेश व अन्य राज्यों में क्यों नहीं की गई है?


अखिलेश ने ट्वीट के माध्यम से भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि आज देश की सत्ताधारी भाजपा बिहार के अपने घोषणापत्र में कह रही है कि वो बिहार के लोगों को कोरोना का टीका मु़फ्त लगवाएगी। ऐसी घोषणा उप्र व अन्य राज्यों के लिए क्यों नहीं की गई? ऐसी अवसरवादी संकीर्ण राजनीति का जवाब उत्तर प्रदेश व देश की जनता आगामी चुनावों में भाजपा को देगी.

सपा प्रमुख ने एक अन्य ट्वीट में कहा, बिहार के चुनाव में कश्मीर-कथा बांचने वाले स्टार प्रचारक जी से कोरोना की मार झेलने वाला अपना उत्तर प्रदेश तो संभल नहीं रहा है और दुनियाभर को वो सीख दे रहे हैं। आर्थिक बदहाली, बेरोजगारी और बढ़ती महंगाई से 365 दिनों त्रस्त रहने वाली जनता को ये 370 के फायदे गिना रहे हैं.

First Published : 23 Oct 2020, 06:47:52 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो