News Nation Logo

राम मंदिर शिलान्यास पर बोले केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, विरोधियों को दिया ये जवाब

आरिफ मोहम्मद खान ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि हमें इस बात के लिए खुशी महसूस करनी चाहिए कि जिस समस्या की वजह से देश को इतनी परेशानियों को झेलना पड़ा वह सौहार्दपूर्ण और शांतिपूर्ण तरीके से हल हो गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 06 Aug 2020, 07:55:34 PM
Arif Mohammad Khan

आरिफ मोहम्मद खान (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्‍ली:

केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) द्वारा राम मंदिर के भूमिपूजन के बाद खुशी जताई है. उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि हमें इस बात के लिए खुशी महसूस करनी चाहिए कि जिस समस्या की वजह से देश को इतनी परेशानियों को झेलना पड़ा वह सौहार्दपूर्ण और शांतिपूर्ण तरीके से हल हो गई है. हमें इस बात से वास्तव में प्रेरणा लेनी चाहिए. उन्होंने इस दौरान ये भी कहा कि अयोध्या में भूमिपूजन के मौके पर पीएम मोदी के भाषण में सबकी जीत का संदेश था. केरल के राज्यपाल ने कहा कि सेक्युलिरिज्म भारत की संस्कृति में है.

आरिफ मोहम्मद खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi)  के अयोध्या जा कर राम मंदिर का शिलान्यास करने पर ऐतराज करने वालों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए केरल के राज्यपाल ने कहा कि भारत का सेक्युलिरिज्म यूरोप जैसा नहीं है जो आस्था से दूरी बनाई जाए. आपको बता दें कि इसके पहले बुधवार को पीएम मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन (Bhoomi Pujan) किया और मंदिर की आधारशिला रखी. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण पर बुधवार शाम सीएम आवास पर दीप जलाए जाएंगे और आतिशबाजी होगी. इस मौके पर योगी आदित्यनाथ ने लोगों को संबोधित भी किया. उन्होंने पीएम मोदी को धन्यवाद कहा.

यह भी पढ़ें-राम मंदिर मानवीय मूल्यों की पुनर्स्थापना का अवसर है : वेंकैया नायडू

सीएम योगी ने कहा-सपना हुआ पूरा
सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा, 'जिस अवधपुरी का अनुभव करने के लिए सनातन धर्मावलंबी और भारत से शुभेच्छा रखने वाले विश्व के विभिन्न देशों में निवासरत महानुभाव पांच शताब्दियों से प्रतीक्षारत थे, उसे पूर्ण कर मूर्त रूप प्रदान करने हेतु आदरणीय प्रधानमंत्री जी को कोटिश अभिनंदन.' सीएम योगी ने आगे कहा कि अवधपुरी के बारे में हम सबने जो सपना देखा है, तीन वर्ष पूर्व अयोध्या दीपोत्सव आयोजन में उसका प्रतिबिंब सभी ने अनुभव किया होगा. श्री राम जन्मभूमि मंदिर भूमिपूजन के रूप में आज उस स्वप्न के साकार होने का सुअवसर है. शताब्दियों के व्रत की पूर्णाहुति का अवसर है.

यह भी पढ़ें-राम मंदिर शिलान्यास के बाद अब CM योगी के आवास पर दीपक जलाने और आतिशबाजी का कार्यक्रम

खत्म हुआ 500 सालों का विवाद
सीएम योगी ने कहा, पीएम मोदी का हाथों राम मंदिर की नींव रखी जाना गौरवपूर्ण पल था.  अपने पूर्वजों और कारसेवकों के 500 सालों के संघर्ष को याद करने का पल था. बातचीत के दौरान सीएम योगी ने ये भी बताया कि राम मंदिर निर्माण का काम किस तरह होगा. उन्होने कहा, यहां माता सीता के नाम पर भी कुछ चीज स्थापित की जाएगी. कुल मिलाकर अयोध्या एक वैदिक रामायण सिटी के रूप में जानी जाएगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Aug 2020, 07:52:31 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.