News Nation Logo

डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के विरोध में IMA का देशव्यापी प्रदर्शन कल

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जे.ए. जयलाल ने बताया कि डॉक्टरों को हिंसा से बचाने के लिए केंद्रीय कानून की मांग को लेकर आईएमए कल देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करने जा रहा है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 17 Jun 2021, 06:52:27 PM
IMA nationwide protest

IMA nationwide protest (Photo Credit: ANI)

highlights

  • डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के विरोध में आईएमए कल देशव्यापी प्रदर्शन करेगा
  • आईएमए के इस प्रदर्शन में आईएमए के 3.5 लाख डॉक्टर हिस्सा लेंगे
  • कोरोना वायरस की दूसरी लहर में 724 कोरोना वॉरियर्स डॉक्टरों की मौत

नई दिल्ली:  

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जे.ए. जयलाल ने बताया कि डॉक्टरों को हिंसा से बचाने के लिए केंद्रीय कानून की मांग को लेकर आईएमए कल देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करने जा रहा है. इस प्रदर्शन में आईएमए के 3.5 लाख डॉक्टर हिस्सा लेंगे. आईएमए की सभी शाखाओं द्वारा देशभर में स्वास्थ्य कर्मियों के खिलाफ हिंसा के विरोध में श्वेत पत्र जारी किया जाएगा. उन्होंने कहा कि आईएमए देश के उन सभी 724 कोरोना वॉरियर्स डॉक्टरों को श्रद्धांजलि देता है जिन्होंने कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान अपनी शहादत दी है. उन्होंने कहा कि बावजूद इसकेे पिछले दो सप्ताह के अंदर असम, बिहार, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और कई अन्य जगहों पर डॉक्टरों पर हिंसा की कई घटनाएं हो चुकी हैं.

यह भी पढ़ें : दिल्ली हिंसा मामलें में दिल्ली पुलिस की याचिका पर कल सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

काली रिबन, काली शर्ट पहनकर अपनी नाराजगी जताएंगे

इन घटनाओं में कई डॉक्टर गंभीर रूप से घायल हो चुके हैं। यही नहीं इस दौरान महिला डॉक्टरों  भी अभद्रता की जा रही है. यही वजह है कि आईएमए ने केंद्र-राज्य सरकार से हेल्थ सर्विस प्रोवाइडर्स को तत्काल सुरक्षा मुहैया कराने के साथ केंद्रीय अस्पताल और हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स सुरक्षा अधिनियम में आईपीसी की धारा और आईपीसी शामिल करने की अपील करते हैं. बताया गया कि डॉक्टरों के खिलाफ हुई हिंसक घटनाओं के विरोध में देशभर में 18 जून यानी कल को डॉक्टर विरोध प्रदर्शन करेंगे. इस दौरान डॉक्टर काला बिल्ला, काले मास्क, काले झंडे, काली रिबन, काली शर्ट पहनकर अपनी नाराजगी जताएंगे. विरोध प्रदर्शन के बाद आईएमए के ओर से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा जाएगा.

यह भी पढ़ें : 20 जुलाई तक 10 वीं बोर्ड और 31 जुलाई को 12 वीं बोर्ड का रिजल्ट: सीबीएसई

कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर में 730 डॉक्टरों की मौत

आपको बता दें कि इंडियन मेडिकल असोसिएशन (आईएमए) की ओर से बताया गया कि कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर में 730 डॉक्टरों की मौत हुई है. जिनमें से बिहार में सबसे ज्यादा 115 डॉक्टरों की मौत हुई है. जबकि

  • दिल्ली में 109
  • यूपी में 79
  • बंगाल में 62
  • राजस्थान में 43
  • झारखंड 39
  • आंध्र प्रदेश में 38 डॉक्टरों की मौत हुई है.

First Published : 17 Jun 2021, 06:19:06 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.