News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

IIT दिल्ली और जामिया समेत करीब 6000 संस्थान नहीं ले सकेंगे विदेशी चंदा

विदेश से चंदा लेने के लिए किसी भी संगठन या एनजीओ केआलिए एफसीआरए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य होता है. शुक्रवार तक 22,762 एफसीआरए रजिस्टर्ड एनजीओ थे. शनिवार को यह आंकड़ा घटकर 16,829 हो गया.

Written By : मनोज शर्मा | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 02 Jan 2022, 06:48:17 AM
IIT Delhi

आईआईटी दिल्ली का भी एफसीआरए के तहत नहीं हुआ लाइसेंस रिन्यू. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • 22,762 एफसीआरए रजिस्टर्ड एनजीओ
  • अब यह आंकड़ा घटकर 16,829 हो गया
  • एफसीआरए लाइसेंस रिन्यू नहीं हो सका

नई दिल्ली:

आईआईटी दिल्ली, जामिया मिल्लिया इस्लामिया, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) और नेहरू स्मारक संग्रहालय उन 6,000 संस्थानों में शामिल हैं, जो फिलहाल विदेशों से चंदा नहीं ले सकेंगे. इन संस्थानों का विदेशी चंदा लेने के लिए जरूरी एफसीआरए रजिस्ट्रेशन शनिवार को खत्म हो गया. विदेश से चंदा लेने के लिए किसी भी संगठन या एनजीओ केआलिए एफसीआरए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य होता है. शुक्रवार तक 22,762 एफसीआरए रजिस्टर्ड एनजीओ थे. शनिवार को यह आंकड़ा घटकर 16,829 हो गया क्योंकि 5,933 एनजीओ ने कामकाज बंद कर दिया. अधिकारियों ने बताया कि इन संस्थानों ने या तो अपने एफसीआरए लाइसेंस को रिन्यू कराने के लिए आवेदन ही नहीं किया या केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उनके आवेदनों को खारिज कर दिया. अब इनका रजिस्ट्रेशन 1 जनवरी को खत्म माना गया है.

एफसीआरए के तहत रजिस्ट्रेशन खत्म हुआ
जिन संगठनों का एफसीआरए के तहत रजिस्ट्रेशन खत्म हुआ है उनमें इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र, भारतीय लोक प्रशासन संस्थान, लाल बहादुर शास्त्री मेमोरियल फाउंडेशन, लेडी श्री राम कॉलेज फॉर वुमन, दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजिनियरिंग और ऑक्सफैम इंडिया शामिल हैं. इसके अलावा, मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई), इमैनुएल हॉस्पिटल असोसिएशन, हमदर्द एजुकेशन सोसायटी, दिल्ली स्कूल ऑफ सोशल वर्क सोसायटी, भारतीय संस्कृति परिषद, डीएवी कॉलेज ट्रस्ट ऐंड मैनेजमेंट सोसायटी, इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर, दिल्ली पब्लिक स्कूल सोसायटी, जेएनयू में न्यूक्लियर साइंस सेंटर और इंडिया हैबिटेट सेंटर भी उन संगठनों में हैं, जिनका एफसीआरए रजिस्ट्रेशन खत्म हो गया.

यह भी पढ़ेंः UP Election: जानें कौन सी सीट से चुनाव लड़ेंगे CM योगी? जानिए जवाब

2,989 संगठनों ने रिन्यू के लिए दिया था आवेदन
एफसीआरए के तहत पंजीकृत गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) और इसके सहयोगियों की गतिविधियों का नियमन करने वाले केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि अधिनियम के तहत पंजीकरण 1 जनवरी को समाप्त माना गया है. विदेशी चंदा प्राप्त करने के लिए किसी भी संगठन और एनजीओ के लिए एफसीआरए पंजीकरण अनिवार्य है. अधिकारियों ने बताया कि 18,778 संगठनों के एफसीआर लाइसेंस 29 सितंबर 2020 से 31 दिसंबर 2021 के बीच समाप्त हो रहे थे. उनमें से करीब 12,989 संगठनों ने एफसीआरए लाइसेंस नवीनीकरण के लिए 30 सितंबर 2020 से 31 दिसंबर 2021 के बीच आवेदन दिया था.

First Published : 02 Jan 2022, 06:48:17 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.