News Nation Logo

गृहमंत्री अमित शाह का राहुल गांधी पर सीधा हमला, दी दो-दो हाथ करने की चुनौती

ANI को दिए इंटरव्यू में अमित शाह ने कहा कि मान लेना चाहिए कि 'सरेंडर मोदी' हैशटैग चीन और पाकिस्तान की तरफ से प्रोत्साहित किया गया था. अमित शाह ने कहा कि सरकार एंटी इंडिया प्रोपगैंडा को हैंडल कर सकती है लेकिन इतनी बड़ी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष इतनी ओछी राजनीति करते हैं तो दुख होता है.

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 28 Jun 2020, 02:33:15 PM
amit shah

गृह मंत्री अमित शाह (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया है और कहा है कि भारत-चीन विवाद के दौरान राहुल गांधी ने ऐसे बयान दिए जो पाकिस्तान और चीन ने पसंद किए. इसी के साथ उन्होंने राहुल गांधी को चुनौती है कि भारत संसद में बहस के लिए तैयार है, अमित शाह ने कहा कि सरकार ससंद में 1.962 से लेकर अब तक बहस करने को तैयार है. 'दो-दो हाथ हो जाएं'.

ANI को दिए इंटरव्यू में अमित शाह ने कहा कि मान लेना चाहिए कि 'सरेंडर मोदी' हैशटैग चीन और पाकिस्तान की तरफ से प्रोत्साहित किया गया था. अमित शाह ने कहा कि सरकार एंटी इंडिया प्रोपगैंडा को हैंडल कर सकती है लेकिन इतनी बड़ी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष इतनी ओछी राजनीति करते हैं तो दुख होता है.

यह भी पढ़ें: भारत विरोध पर उतारू नेपाल बन सकता है आतंकियों का पनाहगाह, सोमालिया में मारा गया नेपाली आतंकी कमांडर

वहीं कोरोना पर बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि जब दिल्ली डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा था कि दिल्ली में 31 जुलाई तक 5.5 लाख मामले हो जाएंगे, तब लोगों में डर था. लेकिन अब हमें विश्वास है कि हम उसे स्टेज तक नहीं पहुंचेंगे. डरने की कोई बात नहीं है. अमित शाह ने कहा कि मैं ये साफ कर देना चाबता हूं कि पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत दोनों जंग जीतेगा.

अमित शाह ने कहा कि भारत सरकार  कोरोना के खिलाफ अच्छी लड़ाई लड़ रहा है. राहुल जी को एडवाइज़ देने का काम उनकी पार्टी के नेताओं का है. कुछ लोगों की वक्रदृष्टि होती है, वो सही चीज को भी गलत तरीके से देखते हैं. भारत कोरोना के खिलाफ अच्छी लड़ाई लड़ रहा है और हमारे आंकड़े दुनियाभर के बाकी देशों से बेहतर हैं. अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि इंदिरा गांधी के बाद क्या कोई ऐसा व्यक्ति कांग्रेस का अध्यक्ष बना है जो गांधी परिवार से न हो. वह किस लोकतंत्र की बात करते हैं. इमरजेंसी पर बात करते हुए उन्होंने कहा,  कोविड के दौरान मैंने कोई राजनीति नहीं की. आप पिछले 10 सालों के मेरे ट्वीट देखे लीजिए, हर 25 जून को मैं बयान देता हूं. 

अमित शाह ने कहा, आपातकाल को लोगों द्वारा याद किया जाना चाहिए क्योंकि इसने हमारे लोकतंत्र की जड़ों पर हमला किया. किसी भी राजनीतिक कार्यकर्ता या नागरिक को नहीं भूलना चाहिए. इसके बारे में जागरूकता होनी चाहिए. यह किसी पार्टी के बारे में नहीं बल्कि देश के लोकतंत्र पर हमले के बारे में है.

यह भी पढ़ें: Mann Ki Baat: पूर्व पीएम राव के बहाने पीएम मोदी ने किया गांधी परिवार पर कटाक्ष

कोरोना मरीजों के शवों पर क्या बोले अमित शाह

अमित शाह ने कहा कि  दिल्ली में 350 से ज्यादा शव (कोरोना मरीज) बिना संस्कार के पड़े थे. हमने तय किया कि 2 दिनों के भीतर शवों का अंतिम संस्कार धर्म के अनुसार किया जाएगा. अभी कोई भी शव अंतिम संस्कार के बिना नहीं बचा है. लॉकडाउन की शुरुआत से ही पीएम मोदी और मैंने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की और कहा कि प्रवासियों के लिए रहने और खाने का इंतजाम कर लें. ढाई करोड़ लोगों के लिए व्यवस्था की गई. 11 हजार करोड़ रुपए नेशनल डिजास्टर फंड में ट्रांसफर किए गए.

First Published : 28 Jun 2020, 01:01:19 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.