News Nation Logo

हर्षवर्धन ने तेलंगाना का ऑक्सीजन, टीकों का कोटा बढ़ाने का भरोसा दिया

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने बुधवार को तेलंगाना को आश्वासन दिया कि केंद्र ऑक्सीजन, दवाओं और टीकों का कोटा बढ़ाएगा. उन्होंने राज्य सरकार के साथ आयोजित एक वीडियो सम्मेलन के दौरान यह आश्वासन दिया.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 12 May 2021, 10:57:48 PM
Harshvardhan

हर्षवर्द्धन (Photo Credit: फाइल )

highlights

  • तेलंगाना में बढ़ाया जाएगा ऑक्सीजन और दवाओं का कोटा
  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने तेलंगाना से किया वादा
  • केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम तीसरी लहर की तैयारी भी कर रहे हैं

नयी दिल्ली:

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन (Union Health Minister Harshvardhan) ने बुधवार को तेलंगाना को आश्वासन दिया कि केंद्र ऑक्सीजन, दवाओं और टीकों का कोटा बढ़ाएगा. उन्होंने राज्य सरकार के साथ आयोजित एक वीडियो सम्मेलन के दौरान यह आश्वासन दिया. मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव के निर्देश पर वित्तमंत्री हरीश राव ने वीडियो कांफ्रेंस में भाग लिया. मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार, हर्षवर्धन ने तेलंगाना में कोविड की तीव्रता में कमी आने पर पर संतोष व्यक्त किया, और आश्वासन दिया कि ऑक्सीजन, दवाओं और इंजेक्शन की आपूर्ति जैसे रेमडेसिविर, वैक्सीन, परीक्षण किट, वेंटिलेटर और अन्य कोरोना से संबंधित दवाओं और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति तुरंत की जाएगी और इस संबंध में राज्य का कोटा भी बढ़ाया जाएगा.

इससे पहले, हरीश राव (Harish Rao) ने राज्य सरकार द्वारा उठाए गए सुधारों के बारे में बताया और केंद्रीय मंत्री (Union Minister) से कोटा बढ़ाने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार (State Government) ने कोविड की दूसरी लहर (Second Wave of Corona) आने तक बुनियादी ढांचे में काफी वृद्धि की है. पहली लहर (First wave of Corona) के दौरान केवल 18,232 बिस्तर थे, जो दूसरी लहर (Second Wave of Corona) के दौरान बढ़कर 53,775 हो गए. ऑक्सीजन बेड 9,213 से बढ़ाकर 20,738 और आईसीयू बेड 3,264 से बढ़ाकर 11,274 किया गया.

यह भी पढ़ेंःकोविड से प्रोफेसर्स की मौत, रमजान में शिक्षक अस्पताल बनवाने के लिए दे रहे हैं चंदा

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग डोर-टू-डोर बुखार सर्वेक्षण कर रहा है, जिसमें 27,039 टीमें शामिल हैं. इनमें शामिल आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और एएनएम स्टाफ शामिल हैं, जो प्रत्येक घर में जाकर प्रत्येक परिवार का परीक्षण करती हैं. हरीश राव ने केंद्रीय मंत्री को यह भी बताया कि कोविड के इलाज के लिए आवश्यक दवाओं से युक्त स्वास्थ्य किट संदिग्ध रोगियों को दी जाती है. यह सर्वेक्षण कार्यक्रम प्रसार को रोकने में मदद कर रहा है और वायरस के कारण होने वाली मौतों को भी रोक रहा है.

यह भी पढ़ेंः40 से 50 हजार रुपए में हो रही है प्लाज्मा की कालाबाजारी, आरोपी गिरफ्तार

हरीश राव ने यह भी मांग की कि राज्य के लिए तय 450 टन ऑक्सीजन प्रतिदिन को 600 टन तक बढ़ाया जाना चाहिए. वह चाहते हैं कि आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र जैसे पड़ोसी राज्यों से ऑक्सीजन टैंकर राज्य में लाए जाएं, न कि ओडिशा जैसे दूर के राज्यों से. उन्होंने कहा कि रेमडेसिविर की आपूर्ति प्रतिदिन 20,000 शीशियों तक बढ़ाई जानी चाहिए.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 May 2021, 10:55:20 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.