News Nation Logo

40 से 50 हजार रुपए में हो रही है प्लाज्मा की कालाबाजारी, आरोपी गिरफ्तार

कोरोना महामारी के बढ़ने के साथ जीवन रक्षक दवाइयों की कालाबाजारी के मामले सामने आए हैं. इतना ही नहीं, अब मरीजों को चढ़ने वाले प्लाज्मा की भी कालाबाजारी की जाने लगी है. नोएडा पुलिस ने प्लाज्मा की कालाबाजारी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 12 May 2021, 07:37:45 PM
plasma black marketing

नोएडा पुलिस ने प्लाज्मा ब्लैक करने वालों को किया गिरफ्तार (Photo Credit: आईएएनएस)

नोएडा:

कोरोना महामारी के बढ़ने के साथ जीवन रक्षक दवाइयों की कालाबाजारी के मामले सामने आए हैं. इतना ही नहीं, अब मरीजों को चढ़ने वाले प्लाज्मा की भी कालाबाजारी की जाने लगी है. गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने प्लाज्मा की कालाबाजारी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस विभाग द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार, थाना बीटा 2 पुलिस व क्राइम ब्रांच टीम ने संयुक्त रूप से महामारी के दौरान प्लाज्मा की कालाबाजारी करने वाले दो आरोपियों को अल्फा कमर्शियल से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपियों के पास से 1 यूनिट प्लाज्मा, 01 सैम्पल ब्लड, 35 हजार नगद व गाड़ी और मोबाइल बरामद किए हैं.

दरअसल पुलिस के अनुसार, अभियुक्तों ने बताया कि वो मोबाइल फोन के जरिये हास्पिटल में एडमिट मरीजो के परिजनो को 40-50 हजार रुपए प्रति यूनिट प्लाज्मा बेचते थे तथा इस आपदा के दौर में अवैध कमाई कर रहे थे. फिलहाल पुलिस ने आरोपियों गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है वहीं आगे की कार्रवाई जारी है.  इसके पहले मंगलवार को नोएडा पुलिस ने थाना सेक्टर 20 नोएडा पुलिस व क्राइम ब्रांच गौतमबुद्धनगर पुलिस द्वारा रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया था. 

यह भी पढ़ेंःसंकट पर विजय के लिए करुणा, सेवा व सकारात्मकता को बनाएं हथियार

नोएडा सेक्टर-20 कोतवाली पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम द्वारा गिरफ्तार किए गए इस युवक का नाम रचित घई बताया गया जिसके पास से 105 रेमडेसिविर के इंजेक्शन बरामद किए गए हैं, वहीं आरोपी दिल्ली के पीतमपुरा सरस्वती विहार का रहने वाला है. वह इस समय नोएडा सेक्टर 168 में रह रहा था. दरअसल आरोपी नोएडा में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहा था एवं जरूरतमंद लोगों को 15,000 से 40,000 रुपए के बीच में बेच रहा था. वहीं आरोपी इन दवाइयों को दिल्ली तथा मुख्यत: चंडीगढ़ से ला रहा था. हालांकि पुलिस दवा के स्त्रोत के विषय में जानकारी प्राप्त कर रही है.

यह भी पढ़ेंःदिल्ली कोरोना अपडेटः कोरोना संक्रमित मरीजों की पॉजीटिविटी रेट में आई गिरावट

डीसीपी क्राइम अभिषेक सिंह ने बताया कि, 20 अप्रैल को इस युवक को गिरफ्तार किया गया था, दिल्ली निवासी मार्च महीने से नोएडा में रहकर रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहा था. दिल्ली तथा मुख्यत: चंडीगढ़ से यह दवाई ला रहा था. हालांकि दवा के स्त्रोत के विषय में जानकारी ली जा रही है और युवक पर अलग अलग कई धाराओं में मुकदम्मा दर्ज किया गया है.

HIGHLIGHTS

  • नोएडा में प्लाजमा ब्लैक करने वाला शख्स गिरफ्तार
  • 40 से 50 हजार में कर रहा था प्लाज्मा की कालाबाजारी
  • मंगलवार को 105 रेमेडेसिविर इंजेक्शन की हो रही थी कालाबाजारी

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 May 2021, 07:20:43 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.