News Nation Logo

खुशखबरी, जनवरी तक भारत में भी आ जाएगी कोरोना वैक्सीन, अंतिम चरण में ट्रायल

कोरोना वैक्सीन को लेकर एक राहत भरी खबर सामने आई है. एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने बयान दिया है कि भारत में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल अंतिम चरण में है. उम्मीद है कि इस महीने के अंत तक या अगले महीने की शुरुआत में हमें सफलता मिल सकती है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 03 Dec 2020, 02:48:50 PM
randeep guleria

एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कोरोना वैक्सीन को लेकर एक राहत भरी खबर सामने आई है. एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने बयान दिया है कि भारत में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल अंतिम चरण में है. उम्मीद है कि इस महीने के अंत तक या अगले महीने की शुरुआत में हमें सफलता मिल सकती है. डॉ. गुलेरिया ने कहा कि उम्मीद है कोरोना की वैक्सीन जनवरी तक देश में भी आ जाएगी. हालांकि उन्होंने कहा कि इसके लिए भारतीय नियामक अधिकारियों (Indian regulatory authorities) से आपातकालीन इजाजत मिलनी चाहिए ताकि जनता को वैक्सीन देना शुरू किया जा सके. 

यह भी पढ़ेंः प्रकाश सिंह बादल ने कृषि कानूनों के विरोध में पद्म पुरस्कार लौटाया

शुरूआती जांच में टीका सुरक्षित
डॉ. गुलेरिया ने कहा कि भारत में कोरोना के टीके को लेकर सुरक्षा को लेकर किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा. अब तक 70 से 80 हजार लोगों को टीका लगाया जा चुका है. किसी पर भी इसका कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ा है. कोरोना टीके के डाटा से पता चलता है कि टीका अल्पावधि के लिए सुरक्षित है.  

यह भी पढ़ेंः MDH मसाले के महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र में निधन

डॉ. गुलेरिया ने कहा कि वैक्सीन को रहने के लिए कोल्ड चेन तैयार की जा रही है. राज्यों के स्तर पर भी टीकाकरण को लेकर तैयारी की जा रही है. उन्होंने कहा कि जब बड़ी संख्या में लोगों को टीका लगाया जाता है तो उनमें से किसी को कुछ बीमारी हो सकती है. यह जरूरी नहीं कि बीमारी टीके के कारण ही हुई हो. 

First Published : 03 Dec 2020, 02:45:18 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.