News Nation Logo
Banner

चुनौतियों के समाधान के लिए दुनिया भारत की ओर भरोसे से देख रहीः पीएम मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा, मैं कई यूरोपीय देशों को अमृत काल के लिए भारत के संकल्प के बारे में जानकारी देने के बाद अभी-अभी वापस आया हूं.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 07 May 2022, 08:08:10 AM
PM Modi

पीएम मोदी ने जीतो कनेक्ट को किया वर्चुअल संबोधित. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • जैन अंतर्राष्ट्रीय व्यापार संगठन जीतो कनेक्ट 2022 को वर्चुअली संबोधन
  • भारत अब वैश्विक कल्याण के एक बड़े उद्देश्य के लिए कार्य कर रहा

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि आज सभी को लगता है कि भारत (India) अब संभावना और क्षमता से आगे बढ़ रहा है और वैश्विक कल्याण सुनिश्चित करने के लिए एक बड़े उद्देश्य के लिए काम कर रहा है. पीएम मोदी ने जैन अंतर्राष्ट्रीय व्यापार संगठन के जीतो कनेक्ट 2022 के उद्घाटन सत्र को वर्चुअली संबोधित करते हुए यह बात कही. प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम की थीम में सबका प्रयास की भावना का उल्लेख किया और कहा कि आज भारत के विकास के संकल्पों को दुनिया अपने लक्ष्यों की प्राप्ति का माध्यम मान रही है.

दुनिया भारत की तरफ भरोसे से देख रही
उन्होंने कहा, वैश्विक शांति हो, वैश्विक समृद्धि हो, वैश्विक चुनौतियों से संबंधित समाधान हों या वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला का सशक्तिकरण हो, दुनिया भारत की तरफ बड़े भरोसे से देख रही है. प्रधानमंत्री ने कहा, मैं कई यूरोपीय देशों को अमृत काल के लिए भारत के संकल्प के बारे में जानकारी देने के बाद अभी-अभी वापस आया हूं. प्रधानमंत्री ने कहा कि विशेषज्ञता का क्षेत्र, कार्य क्षेत्र चाहे जो भी हो, विचारों में चाहे जितनी भी भिन्नता हो, लेकिन नए भारत का उदय सभी को जोड़ता है.

यह भी पढ़ेंः बग्गा गिरफ्तारी मामला: दिन भर 'शह-मात' का खेल, आधी रात को मिली रिहाई

प्रति सप्ताह एक यूनिकॉर्न
उन्होंने आगे कहा, आज सभी को लगता है कि भारत अब संभावना और क्षमता से आगे बढ़कर वैश्विक कल्याण के एक बड़े उद्देश्य के लिए कार्य कर रहा है. सही उद्देश्य, स्पष्ट इरादा और अनुकूल नीतियों से जुड़ी अपनी बातों को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि आज देश जितना संभव हो सकता है, प्रतिभा, कारोबार और प्रौद्योगिकी को प्रोत्साहित कर रहा है. उन्होंने कहा कि आज देश प्रतिदिन दर्जनों स्टार्टअप का पंजीकरण कर रहा है, प्रति सप्ताह एक यूनिकॉर्न बना रहा है.

आत्मनिर्भर भारत हमारा रास्ता भी है और संकल्प भी
प्रधानमंत्री ने कहा कि जब से सरकारी ई-मार्केटप्लेस यानी जीईएम पोर्टल अस्तित्व में आया है, सारी खरीद सबके सामने एक प्लेटफॉर्म पर होती है. अब दूरदराज के गांवों के लोग, छोटे दुकानदार और स्वयं सहायता समूह अपने उत्पाद सीधे सरकार को बेच सकते हैं. उन्होंने बताया कि आज जीईएम पोर्टल पर 40 लाख से अधिक विक्रेता जुड़ चुके हैं. उन्होंने पारदर्शी फेसलेस टैक्स निर्धारण, एक राष्ट्र-एक टैक्स, उत्पादकता से जुड़ी प्रोत्साहन योजनाओं के बारे में भी बात की. प्रधानमंत्री ने कहा, भविष्य का हमारा रास्ता और मंजिल दोनों स्पष्ट हैं. आत्मनिर्भर भारत हमारा रास्ता भी है और संकल्प भी. बीते सालों में हमने इसके लिए हर जरूरी माहौल बनाने में निरंतर परिश्रम किया है.

यह भी पढ़ेंः LoC पर जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ को तैयार बैठे 200 खूंखार आतंकी

पृथ्वी के लिए करें काम
प्रधानमंत्री ने सभा से पृथ्वी के लिए काम करने का आग्रह किया, जिसमें पर्यावरण, कृषि, पुनर्चक्रण, प्रौद्योगिकी और स्वास्थ्य देखभाल आदि शामिल है. उन्होंने कहा, आज सरकार देश के हर जिले में स्वास्थ्य देखभाल और मेडिकल कॉलेज जैसी व्यवस्थाओं के लिए बहुत काम कर रही है. उन्होंने जनसमुदाय से इस बात पर भी विचार करने का आग्रह किया कि उनकी संस्था इसे कैसे प्रोत्साहित कर सकती है.

First Published : 07 May 2022, 08:04:03 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.