News Nation Logo
Banner

स्कूली बच्चों के लिए राष्ट्रीय कोडिंग प्रतियोगिता कोड2विन आयोजित कर रहा यूफियस लनिर्ंग

स्कूली बच्चों के लिए राष्ट्रीय कोडिंग प्रतियोगिता कोड2विन आयोजित कर रहा यूफियस लनिर्ंग

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 09 Sep 2021, 04:45:01 PM
Eupheu Learning

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: भारत की अग्रणी एड-टेक कंपनी यूफियस लनिर्ंग, कनाडा की एड-टेक कंपनी रोबोगार्डन इंक के साथ साझेदारी में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय कोडिंग प्रतियोगिता कोड2विन के लिए कक्षा 1 से 12 तक के छात्रों को आमंत्रित कर रही है।

कोड2विन एक सितंबर, 2021 से शुरू हुई है और इसका समापन 20 नवंबर, 2021 को होगा।

शिक्षा मंत्रालय की राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 के माध्यम से महत्वपूर्ण सुधारों में से एक कक्षा 6 के बाद से छात्रों के लिए कोडिंग कक्षाओं की शुरूआत है। इतनी कम उम्र में इस तरह का एक्सपोजर छात्रों को एक अलग नजरिए से तकनीक को समझने में मदद करेगा और यह प्रतियोगिता देश भर में स्कूल जाने वाले छात्रों के लिए अधिक समग्र शिक्षा प्रदान करने के लिए पारंपरिक तरीकों और प्रथाओं को तोड़ने के लिए इस जनादेश के साथ जुड़ी हुई है।

कोड2विन पर टिप्पणी करते हुए, यूफियस लनिर्ंग के संस्थापक, सर्वेश श्रीवास्तव ने कहा, कोडिंग मौलिक स्तर पर समस्या के की पहचान करने और सरल चरणों में तथा मशीनों द्वारा समझी जाने वाली भाषा में समाधान तक पहुंचने को बढ़ावा देती है। इसलिए, हम कह सकते हैं कि यह महत्वपूर्ण सोच और रचनात्मक समाधान को बढ़ावा देती है। कोड2विन प्रतियोगिता आयोजित करके, हम देश भर में सबसे लोकतांत्रिक तरीके से कोडिंग के बारे में जागरूकता बढ़ाना चाहते हैं। हमने कोड2विन प्रतियोगिता को सरल बनाया है, जो छात्रों को चुनौतियों और प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करेगी। हमारी जिम्मेदारी हमारे युवाओं को भविष्य की चुनौतियों के लिए तैयार करना है, जो उन्हें नई दुनिया को रचनात्मकता (क्रिएटिविटी) और नवाचार (इनोवेशन) के रास्ते पर ले जाने में मदद करेगी। यह प्रतियोगिता उनकी योग्यता का विकास करेगी और उन्हें जीवन कौशल के रूप में कोडिंग को चुनने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

यह गेमीफाइड प्रतियोगिता छात्रों को अपने कोडिंग कौशल का परीक्षण करने का अवसर देती है, क्योंकि वे छात्रवृत्ति जीतने के लिए स्कूल और राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न चुनौतियों का सामना करते हैं। स्कूल जाने वाले छात्र स्कूल स्तर की चैंपियनशिप में भाग ले सकते हैं और प्रत्येक स्कूल से प्रत्येक श्रेणी में शीर्ष तीन प्रतिभागियों को राष्ट्रीय स्तर पर फाइनल में प्रतिस्पर्धा करने का मौका मिलेगा। इन छात्रों को यूफियस लनिर्ंग और रोबोगार्डन से कोडिंग कार्यक्रमों में छात्रवृत्ति से सम्मानित किया जाएगा और बाद में, राष्ट्रीय विजेताओं को उनकी रैंकिंग के आधार पर 100,000 रुपये से 25,000 रुपये के बीच नकद छात्रवृत्ति से सम्मानित किया जाएगा।

कोड2विन पर टिप्पणी करते हुए रोबोगार्डन इंक के सीईओ डॉ. मोहम्मद एलहैबी कहते हैं, हमारा मानना है कि कोड2विन भारत में छात्रों और पूरे समुदायों के लिए उज्‍जवल नए अवसर पैदा करेगी। कोडिंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) साक्षरता डिजिटल अर्थव्यवस्था में सफलता के आवश्यक चालक हैं। यह प्रतियोगिता आज और भविष्य के लिए रचनात्मकता और उद्यमिता के लिए सभी आवश्यक कौशलों को लागू करके डिजिटल इंडिया विजन को फिट करने के लिए तैयार की गई है।

अन्य प्रतियोगिताओं के विपरीत, कोड2विन 3 नई चीजें पेश करती है। (1) यह भारत में कोडिंग कार्यक्रम जागरूकता को बढ़ाने का सबसे लोकतांत्रिक तरीका है। यह गेमीफाइड प्रतियोगिता कक्षा 1 से 12 के सभी स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए खुली है। (2) प्रतियोगिता में प्रत्येक प्रतिभागी को 1 घंटे के प्रशिक्षक के नेतृत्व वाले कार्यक्रम के माध्यम से तैयार करना शामिल है, इसके बाद अभ्यास के लिए 4 घंटे का स्व-गतिशील कोडिंग मॉड्यूल शामिल है। यह किसी विषय पर रट कर सीखने के बजाय एनईपी 2020 के समग्र विकास के एजेंडे के अनुरूप है। (3) यह छात्रों को स्कूल स्तर पर और फिर राष्ट्रीय स्तर पर, फाइनल के माध्यम से विकसित होने का मौका प्रदान करती है।

इसके माध्यम से प्रत्येक स्कूल से प्रत्येक श्रेणी के शीर्ष तीन विजेताओं को राष्ट्रीय स्तर पर अपना कौशल दिखाने का मौका मिलेगा। इसका मतलब है कि प्रत्येक स्कूल से कुल 9 छात्र कोड2विन नेशनल फाइनल में अपने स्कूल का प्रतिनिधित्व करेंगे। प्रत्येक स्तर के विजेताओं को निम्नलिखित कोडिंग कार्यक्रमों में नकद पुरस्कार और छात्रवृत्ति मिलेगी:

- पायथन में गेम बिल्डर

- जावास्क्रिप्ट में गेम बिल्डर

- ब्लॉकी में गेम बिल्डर

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 09 Sep 2021, 04:45:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live Scores & Results

वीडियो

×