News Nation Logo

दिल्ली हाईकोर्ट ने कैदियों की जमानत अवधि बढ़ाने के आदेश पर लगाई रोक

कोरोना वायरस के दौर में दिल्ली में जमानत और पैरोल पर जेल से बाहर आए कैदियों की जमानत अवधि बढ़ाए जाने पर दिल्ली हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 20 Oct 2020, 02:25:31 PM
Delhi High Court

दिल्ली हाईकोर्ट ने कैदियों की जमानत अवधि बढ़ाने के आदेश पर लगाई रोक (Photo Credit: फ़ाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस के दौर में दिल्ली में जमानत और पैरोल पर जेल से बाहर आए कैदियों की जमानत अवधि बढ़ाए जाने पर दिल्ली हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है. इसके साथ ही जेल से बाहर चल रहे कैदियों से सरेंडर करने को कहा है. दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि जिन लोगों को 16 मार्च से पहले या उसके बाद जमानत और पैरोल मिली है, उनकी कोरोना के चलते जमानत/ पैरोल अवधि बढ़ाए जाते रहने के पुराने आदेश की वो समीक्षा करेगा.

यह भी पढ़ें: कोरोना के बीच खुले स्कूल, लेकिन बच्चों की पूरी जिम्मेदारी होगी माता-पिता की

कोर्ट ने आज टिप्पणी की है कि अब ऐसे कैदियों की जमानत अवधि बढ़ाए जाते रहने के आदेश पर रोक लगनी चाहिए. जेल से बाहर चल रहे कैदी सरेंडर करें और अगर वो चाहें तो केस की मैरिट के आधार पर अंतरिम जमानत की गुहार लगा सकते हैं. हालांकि इसे लेकर अभी कोर्ट का औपचारिक आदेश आना बाकी है.

यह भी पढ़ें: यूपी नहीं लौटना चाहता बाहुबली मुख्तार अंसारी! सता रहा है पुलिस की गाड़ी पलटने डर

इससे पहले कोर्ट के आदेश के चलते ऐसे सभी लोगों की ज़मानत अवधि को 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया गया था. इसको लेकर कोर्ट में दायर याचिकाओं में कहा गया था कि अदालत के ऐसे आदेश का दुरुपयोग हो रहा है. इसी बीच जेल अथॉरिटी की ओर से कोर्ट को बताया गया है कि अभी दिल्ली की जेलों में  6711 कैदी अंतरिम ज़मानत या पेरोल पर बाहर हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 20 Oct 2020, 02:25:31 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.