News Nation Logo

तौकते तूफान में लापता क्रु मेंबर की तलाश जारी: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे तौकते तूफान (Cyclone Tauktae) के कारण हुई तबाही के पैमाने और प्रतिकूल परिस्थितियों के बारे में पता है जिसमें भारतीय नौसेना और तटरक्षक बल द्वारा खोज और बचाव अभियान चलाए गए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 20 May 2021, 08:21:53 PM
Defense Minister Rajnath Singh

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे तौकते तूफान (Cyclone Tauktae) के कारण हुई तबाही के पैमाने और प्रतिकूल परिस्थितियों के बारे में पता है जिसमें भारतीय नौसेना और तटरक्षक बल द्वारा खोज और बचाव अभियान चलाए गए हैं. बजरा P305 के चालक दल को बचाने में नौसेना द्वारा की गई साहसिक कार्रवाई से कई कीमती जानें बचाई गई हैं. मैं तौकते तूफान (CycloneTauktae) के दौरान बहुमूल्य जीवन के नुकसान से बहुत दुखी हूं और शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करता हूं. मेरी प्रार्थना लापता चालक दल के सदस्यों के परिवारों के साथ है, जिनके लिए खोज और बचाव के प्रयास जारी हैं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि विषम परिस्थितियों में हमारे नागरिकों की जान बचाने के लिए अपनी जान जोखिम में डालने से बाज नहीं आने वाले वर्दीधारी जवानों का हृदय से आभार.

यह भी पढ़ें : निलंबित DSP देविंदर सिंह को तत्काल प्रभाव से किया गया बर्खास्त

केंद्रीय एजेंसियां और राज्य सरकार बहाली कार्य में तेजी लाएंगे
चक्रवाती तूफान 'तौकते' के कमजोर पड़ने के बीच केंद्रीय मंत्रालयों और एजेंसियों को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ मिलकर काम करने का निर्देश दिया गया है, ताकि सभी आवश्यक सहायता और बहाली का काम तेजी से किया जा सके. कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने गुरुवार को राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) की बैठक के दौरान बचाव और बहाली के प्रयासों की समीक्षा करते हुए यह निर्देश दिया.

यह भी पढ़ें : दिल्ली में इस दिन से बंद हो जाएगा 18+ का वैक्सीनेशन, जानें वजह

उन्होंने चक्रवाती तूफान के बाद राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन और केंद्रीय मंत्रालयों या एजेंसियों द्वारा की गई राहत और बहाली के प्रयासों की भी समीक्षा की. गौबा ने जोर देकर कहा, "संबंधित एजेंसियों और राज्य और केंद्र शासित प्रदेश सरकारों द्वारा दूरसंचार, बिजली, सड़कों, पानी की आपूर्ति और अन्य बुनियादी ढांचे की बहाली को जारी रखा जा सकता है और तेजी से पूरा किया जा सकता है."

सभी एजेंसियों द्वारा अग्रिम और समय पर की गई कार्रवाई से अवगत कराया जाता है कि प्रभावित क्षेत्रों में अस्पतालों और कोविड देखभाल केंद्रों का कामकाज भी अप्रभावित रहा. ओएनजीसी के तीन जहाजों और एक अपतटीय ड्रिलिंग पोत पर लोगों को बचाने के लिए भारतीय नौसेना और तटरक्षक बल द्वारा अन्य एजेंसियों के साथ किए गए प्रयासों पर भी चर्चा की गई.

बैठक में गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गोवा, केरल, तमिलनाडु के मुख्य सचिवों और अधिकारियों ने लक्षद्वीप और दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव के प्रशासकों के सलाहकारों ने भाग लिया. इनके अलावा, गृह मंत्रालय, जहाजरानी, दूरसंचार, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, बिजली, स्वास्थ्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण, पेयजल और स्वच्छता मंत्रालयों के सचिवों और अधिकारियों ने भी सदस्य सचिव एनडीएमए, डीजी एनडीआरएफ, डीजी आईएमडी, डीजी कोस्ट के साथ गार्ड और उप प्रमुख आईडीएस ने बैठक में भाग लिया.

 

 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 20 May 2021, 07:50:34 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.