News Nation Logo

विजयदशमी पर चीन सीमा के नजदीक रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने किया शस्त्र पूजन

रक्षा मंत्री ने पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में सुकना युद्ध स्मारक पर सेना के जवानों के साथ मंत्रोच्चारण के बीच शस्त्र पूजा की है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 25 Oct 2020, 10:56:01 AM
Rajnath Singh Shastra Puja

विजयदशमी पर जवानों के साथ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने किया शस्त्र पूजन (Photo Credit: News Nation)

दार्जिलिंग :

आज देशभर में दशहरा या विजयादशमी का पर्व मनाया जा रहा है. आज के दिन शस्त्र पूजा का काफी महत्व होता है. इसी कड़ी में देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शस्त्र पूजन किया है. रक्षा मंत्री ने पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में सुकना युद्ध स्मारक पर सेना के जवानों के साथ मंत्रोच्चारण के बीच शस्त्र पूजा की है. राजनाथ सिंह इस बार वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास सीमाई क्षेत्र में सैनिकों के साथ दशहरा पर्व मना रहे हैं. सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे भी मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें: विजयदशमी पर मोहन भागवत बोले- भारत के जवाब से सहमा चीन 

इसके बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सिक्किम में बीआरओ द्वारा निर्मित एक एक्सल रोड का ई-उद्घाटन किया. उन्होंने कहा कि आज नेशनल हाईवे-310 के आंशिक वैकल्पिक मार्ग को सिक्किम की जनता को समर्पित करते हुए मुझे बड़ी खुशी हो रही है. 'गंगटोक' से 'नाथू-ला' को जोड़ने वाला NH-310, पूर्वी सिक्किम के सीमावर्ती क्षेत्रों के लोगों की जीवन रेखा है. उन्होंने कहा कि पुराने वैकल्पिक मार्ग NH-310 पर भारी मात्रा में भूस्खलन एवं सिंकिंग की संभावनाओं वाला क्षेत्र है. इससे बरसात के मौसम में यहां के लोगों एवं सेना को आवागमन में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. अब इस 19.35 किलोमीटर वैकल्पिक मार्ग NH-310 बन जाने से ये दिक्कतें दूर हो सकेंगी.

उन्होंने कहा, 'मैं आप सबको यह भी बताना चाहता हूं कि BRO द्वारा सिक्किम के अधिकांश सीमावर्ती सड़कों का डबल लेन में अपग्रेडेशन किया जा रहा है. इसमें से ईस्ट सिक्किम में 65 किलोमीटर सड़क निर्माण-कार्य प्रगति पर है, तथा 55 किलोमीटर सड़क निर्माण योजना के तहत है. नॉर्थ सिक्किम में भारतमाला परियोजना के अन्तर्गत ‘मंगन-चुगथांग-यूमेसेमडोंग’ और ‘चुगंथांग-लाचेन-जीमा-मुगुथांग-नाकुला’ तक 225 किलोमीटर डबल लेन सड़क का निर्माण कार्य नियोजित है. ये कार्य 9 पैकेजों में नियोजित किए गए हैं, जिनकी अनुमानित लागत 5710 करोड़ रुपए है.'

यह भी पढ़ें: भारत कुलभूषण जाधव मामले को फिर ICJ ले जाना चाहता है : कुरैशी

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री के दिशा-निर्देश में, पूर्वोत्तर राज्यों में इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है. BRO के पास पूर्वोत्तर क्षेत्र में कुल 8090 किमी लम्बाई की सड़के हैं.इनमें से 5734 किमी. निर्माण योजना में है. 

इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को पूर्वी सेक्टर में सुकना स्थित 33वीं कोर के मुख्यालय में भारतीय सेना की तैयारियों की समीक्षा की. कोर सिक्किम में चीन से लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर निगरानी रखती है. रक्षा मंत्री दोपहर में दार्जिलिंग जिले में एक प्रमुख सैन्य अड्डे, जिसे ‘त्रिशक्ति’ कोर के रूप में जाना जाता है, पहुंचे थे. वह पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ सीमा गतिरोध के मद्देनजर सैन्य तैयारियों की समीक्षा के साथ-साथ सैनिकों के साथ दशहरा मनाने के लिए पश्चिम बंगाल और सिक्किम की दो दिवसीय यात्रा पर है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास सीमाई क्षेत्र में सैनिकों के साथ दशहरा मनाने का फैसला ऐसे समय किया है, जब पूर्वी लद्दाख में सीमा पर चीन के साथ भारत का गतिरोध चल रहा है. गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच लगभग पांच महीने से सीमा पर गतिरोध चल रहा है जिससे उसके संबंधों में तनाव आया है. दोनों पक्षों ने गतिरोध को दूर करने के लिए राजनयिक और सैन्य स्तर पर कई दौर की वार्ता की है. हालांकि, गतिरोध को समाप्त करने में कोई सफलता नहीं मिली है.

यह भी पढ़ें: Happy Dussehra 2020: आज है दशहरा, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि 

उल्लेखनीय है कि राजनाथ सिंह पिछले कुछ साल से दशहरा पर 'शस्त्र पूजा' कर रहे हैं. पिछले साल फ्रांस के दौरे के दौरान दशहरा के मौके पर उन्होंने तटीय शहर बॉर्डिऑक्स में 'शस्त्र पूजा' की थी. इस दौरान उन्होंने राफेल विमान का पूजन किया था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 25 Oct 2020, 09:38:45 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.