News Nation Logo

कोरोना से मौत का आंकड़ा 4 लाख के पार, 24 घंटे 853 ने तोड़ा दम

Coronavirus Updates: नए आंकड़ों को मिलाकर मरीजों की कुल संख्या 3 करोड़ 4 लाख 58 हजार 251 पहुंच गई है. फिलहाल, 5 लाख 9 हजार 637 मरीज अपना इलाज करा रहे हैं. रिकवरी रेट बढ़कर 97.01 प्रतिशत पर पहुंच गया है. जबकि, वीकली पॉजिटिविटी रेट 2.57 प्रतिशत पर है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 02 Jul 2021, 03:12:54 PM
Corona Death

कोरोना से मौत का आंकड़ा 4 लाख के पार, 24 घंटे 853 ने तोड़ा दम (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:  

भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 4 लाख के पार चला गया है. बीते 24 घंटों में 853 लोगों की मौत हुई. इस दौरान संक्रमण के 46 हजार 617 नए मामले सामने आए. नए आंकड़ों को मिलाकर मरीजों की कुल संख्या 3 करोड़ 4 लाख 58 हजार 251 पहुंच गई है. फिलहाल, 5 लाख 9 हजार 637 मरीज अपना इलाज करा रहे हैं. शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि देश में एक्टिव केस की संख्या कुल मामलों की 1.67 फीसदी है. वहीं रिकवरी रेट बढ़कर 97.01 प्रतिशत पर पहुंच गया है. जबकि, वीकली पॉजिटिविटी रेट 2.57 प्रतिशत पर है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोरोना की जांच की क्षमता को भी बढ़ाया गया है और अब तक 41.42 करोड़ टेस्ट किए जा चुके हैं.

हिमाचल में भी मिला डेल्टा प्लस वेरिएंट का पहला मरीज

देश के कई राज्यों के बाद अब हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में कोविड-19 के डेल्टा प्लस वेरिएंट का पहला मरीज मिला है. इस बात की जानकारी अधिकारी ने गुरुवार को दी. कांगड़ा के पालमपुर उपमंडल के गोपालपुर में 19 साल की एक महिला की जांच रिपोर्ट 25 मई को पॉजिटिव आई थी. सैंपल की जांच की गई, तो डेल्टा प्लस की बात सामने आई है.

यह भी पढे़ंः Alert: सावधानी हटी दुर्घटना घटी, आ गई Corona की तीसरी लहर

डेल्टा प्लस वेरिएंट पर कर्नाटक सरकार अलर्ट

कर्नाटक सरकार ने केरल से आने वाले सभी यात्रियों के लिए कड़े नियम लागू किए हैं. राज्य में एंट्री के लिए अब नेगेटिव RT-PCR सर्टिफिकेट दिखाना होगा. यह नियम हवाई जहाज, गाड़ी, बस, रेल सभी तरह के यात्राओं पर प्रभावी होंगे. राज्य सरकार ने केरल के कुछ जिलों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों का हवाला देकर नए नियम जारी किए हैं. इन नियमों का पालन नहीं करने पर कानूनी कार्रवाई का जाएगी.

'तीसरी लहर से निपटने के लिए भारत तैयार'

गुरुवार को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि भारत ने मेडिकल इंफ्रास्टक्रचर को बढ़ा दिया है और अगर तीसरी लहर आती है, तो उससे निपटने के लिए तैयार है. उन्होंने जानकारी दी कि राजस्व संग्रम में हुई बढ़त के चलते चुनौतियों को पूरा करने में मदद मिलेगी.

कोरोना पहली-दूसरी लहर में बच्चों पर असर
कोरोना की पहली लहर में आरटी-पीसीआर टेस्ट में 4 फ़ीसद बच्चे पॉज़िटिव पाए गए थे. आईसीएमआर ने फ़रवरी 2021 की अपनी सीरो रिपोर्ट में कहा था कि 25.3 फ़ीसदी बच्चों में वायरस के एंटीबॉडी मौजूद थी. यानी 25.3 फ़ीसद बच्चों को कोरोना संक्रमण हो चुका था. कोरोना की दूसरी लहर में 10 -15 फीसद बच्चे संक्रमित हुए. दिल्ली एम्स ने 15  मार्च से 10 जून 2021 के बीच चार राज्यों में 4500 लोगों का टेस्ट किया था, जिसमें 55.7 फीसदी बच्चों में वायरस की एंटीबॉडी मौजूद थी. महाराष्ट्र में पहली और दूसरी लहर के बीच 10 फीसद बच्चे संक्रमित हुए. 15  फरवरी से 15 अप्रैल के बीच लगभग 10 फीसदी बच्चे संक्रमित हुए. मई में 1 फीसदी से भी कम बच्चे संक्रमित हुए.

First Published : 02 Jul 2021, 10:51:36 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.