News Nation Logo

तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, एक्सपर्ट्स बोले-बदलनी चाहिए वैक्सीनेशन पॉलिसी

देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. महाराष्ट्र में कोरोना का सबसे अधिक कहर है. देश में जितने भी मामले सामने आ रहे हैं, उनमें से करीब 60 फीसद अकेले महाराष्ट्र में ही हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 23 Mar 2021, 09:19:59 AM
corona

तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले, एक्सपर्ट्स बोले-बदली जाए पॉलिसी (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • देश के कुल मामलों में 60 फीसद अकेले महाराष्ट्र में 
  • भारत में अभी दो ही वैक्सीन को मिली है इजाजत
  • महाराष्ट्र में सोमवार को मिले 24 हजार से अधिक मामले

नई दिल्ली:

भारत में कोरोना वायरस के मामले एक बार फिर बढ़ने शुरू हो गए हैं. वैक्सीन के बाद भी कोरोना के लगातार बढ़ते मामले चिंता का सबब बने हुए हैं. वैक्सीनेशन शुरू होने के दो महीने बाद भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ने के बाद सरकार की ओर से जारी ताजा रिसर्च में दावा किया गया है कि लोगों में वैक्सीन को लगवाने के लिए एक बेचैनी सी है. इस बेचैनी के बीच वैक्सीन को लेकर पैदा हो रहे खतरे के खत्म होने की उम्मीद है और साथ ही कोरोना के फिर से बढ़ते मामलों का डर भी है. सर्वे में सामने आया है कि अधिकांश लोग वैक्सीन लगवाना चाहते हैं. 

यह भी पढ़ेंः भारत-पाकिस्तान के बीच ढाई साल बाद आज से शुरू होगी सिंधु जल आयोग की बैठक

वैक्सीनेशन में बदलाव की जरूरत?
इस मामले में इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ के डायरेक्टर दिलीप मावलनकर का कहना है कि भारत को अपनी कोरोना वैक्सीनेशन की नीति बदलने की जरूरत है, क्योंकि अगर इस रफ्तार से आगे बढ़े तो पूरे देश में हर्ड इम्युनिटी लाने में लंबा वक्त लग सकता है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि सरकार को जिन इलाकों में कोरोना के मामले सबसे अधिक सामने आ रहे हैं वहां वैक्सीन को आगे बढ़ाना चाहिए. दूसरी तरफ एम्स के डॉ. रणदीप गुलेरिया का कहना है कि हमारे पास इतनी पर्याप्त वैक्सीन नहीं हैं जिससे जुलाई तक लोगों को डोज दी जा सके. ऐसे में इस बयान से अंदाजा लगाया जा सकता है कि देश में वैक्सीन के निर्माण की रफ्तार को भी बढ़ाना होगा. 

भारत में सिर्फ दो ही वैक्सीन
सरकार की ओर से मौजूदा चरण में 30 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाने की योजना पर काम किया जा रहा है. इसके लिए 60 करोड़ वैक्सीन की जरूरत होगी. फिलहाल भारत में कोविशील्ड और वैक्सीन को ही मंजूरी मिली है. अगर देश के सभी लोगों तक वैक्सीन पहुंचानी है तो वैक्सीन की डोज में इजाफा करना होगा. सूत्रों का कहना है कि सरकार जल्द ही रूस की स्पूतनिक-वी को भी मंजूरी दे सकती है. मौजूदा वक्त में भारत में करीब 40 हजार सेंटर्स पर वैक्सीनेशन का अभियान चल रहा है. सोमवार तक देश में 4.5 करोड़ से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज़ दी जा चुकी हैं, करीब 75 लाख लोग ऐसे हैं जिन्हें वैक्सीन की दोनों डोज़ मिल गई हैं. अभी तक भारत ने एक दिन में सर्वाधिक 30 लाख वैक्सीन की डोज़ देने का काम किया है.

यह भी पढ़ेंः बैंकों से जुड़ा कामकाज जल्द निपटा लें, आगे करना पड़ेगा लंबा इंतजार

फिर डराने लगा है महाराष्ट्र?
महाराष्ट्र से सामने आए कोरोना के मामले एक बार फिर देश को डरा रहे हैं. सोमवार को महाराष्ट्र में 24 हजार से अधिक मामले सामने आए. देश में जितने भी नए मामले सामने आए हैं, उसमें से 60 फीसदी महाराष्ट्र से ही सामने आ रहे हैं. राज्य में अब कुछ जगहों पर लॉकडाउन लौटा है और डर है कि ये पूरे राज्य में लग सकता है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 23 Mar 2021, 09:19:59 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.