News Nation Logo
Banner

कोरोना को लेकर सोनिया गांधी ने लिखी पीएम मोदी को चिट्ठी, वैक्सीन की कमी पर जताई चिंता

कोरोना से बिगड़ते हालातों को देखते हुए कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी है. सोनिया ने अपनी चिट्ठी में लिखा कि 'कांग्रेस शासित प्रदेशों की सरकार से बात करने के बाद आपके सामने कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर आपका ध्यान दिलाना चाहूंगी.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 12 Apr 2021, 07:47:45 PM
Sonia Gandhi

Sonia Gandhi (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • सोनिया गांधी ने कांग्रेस शासित राज्यों से बात करने के बाद लिखी चिट्ठी
  • सोनिया ने पीएम मोदी के सामने 3 मांगे रखीं, जल्द पूरी करने की अपील की

नई दिल्ली:

देश में कोरोना (Coronavirus) की दूसरी लहर बड़ी तेजी के साथ बढ़ रही है. इस महामारी (COVID-19) के कारण एक बार फिर हालात एक बार फिर से बेकाबू होते जा रहे हैं. कोरोना के नए केस ने पुराने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए. आलम ये है कि तकरीबन हर रोज एक लाख से ज्यादा नए मरीज सामने आ रहे हैं. देश के चार राज्यों में एक दिन में सबसे ज्यादा नए केस आए. इनमें महाराष्ट्र (Maharashtra), दिल्ली (Delhi), यूपी (Uttar Pradesh) और मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) शामिल हैं. इस महामारी से निपटने के लिए देशभर में वैक्सीनेशन का काम तेजी के साथ जारी है. लेकिन कई राज्यों में वैक्सीन की कमी होने की खबरें सामने आ रही हैं. 

ये भी पढ़ें- Corona Update: वैक्सीन को लेकर बड़ी खबर, भारत में रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-V को मिली मंजूरी

कोरोना से बिगड़ते हालातों को देखते हुए कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी है. सोनिया गांधी ने अपनी चिट्ठी में केंद्र सरकार के सामने तीन मांगों रखी हैं. सोनिया ने अपनी चिट्ठी में लिखा कि 'कांग्रेस शासित प्रदेशों की सरकार से बात करने के बाद आपके सामने कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर आपका ध्यान दिलाना चाहूंगी. उन्होंने कांग्रेस शासित राज्यों से चर्चा करने के बाद प्रधानमंत्री के सामने तीन मांगे रखी हैं. 

ये हैं सोनिया गांधी की 3 मांगे

सोनिया ने पीएम मोदी के सामने पहली मांग रखी कि राज्यों को जल्द से जल्द कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराई जाए. उन्होंने अपनी पहली मांग में लिखा कि 'राज्यों के पास तीन से पांच दिन का वैक्सीन स्टॉक बचा है. इसलिए अर्जेंट लेवल पर सप्लाई करना होगा. दूसरी मांग के मुताबिक 'कोविड से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर को जीएसटी फ्री किया जाए.' वहीं तीसरी मांग के मुताबिक 'महामारी से प्रभावित गरीबों को 6000 रूपये दिया जाए. इसके अलावा बड़े शहरों से वापस लौट रहे लोगों के लिए ट्रांसपोर्टेशन की व्यवस्था की जाए.' 

ये भी पढ़ें- सर्जरी के बाद राष्ट्रपति भवन में वापस लौटे राष्ट्रपति कोविंद, ट्वीट कर दी जानकारी

रूसी वैक्सीन 'स्पूतनिक V' को मंजूरी

भारत को अब रूस से एक और बड़ा हथियार मिलने वाला है. इस महामारी के खिलाफ जो हथियार रूस से भारत को मिलने वाला है उसका नाम है स्पूतनिक वी (Russian COVID-19 Vaccine Sputnik V). केंद्र सरकार ने रूसी कोरोना वैक्सीन स्पूतनिक V को भी आपातकालीन मंजूरी दे दी है. विशेषज्ञ समिति (सीडीएससीओ) की मंजूरी के साथ ही अब देश में 3 कोरोना टीके आ गए हैं. अभी तक देश में दो वैक्सीन (कोविशील्ड और कोवैक्सीन) के इस्तेमाल की इजाजत थी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 Apr 2021, 07:34:30 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.