News Nation Logo
Banner

DRDO के 'अर्जुन' ने दागी लेजर-गाइडेड ऐंटी टैंक मिसाइल, राजनाथ सिंह ने बधाई देते हुए कही ये बात

चीन (China) सीमा पर टेंशन के बीच भारत नए-नए हथियारों का टेस्ट कर रहा है. ताकि युद्ध जैसी स्थिति बनती है तो ड्रैगन को मुंहतोड़ जवाब दिया जा सके.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 23 Sep 2020, 03:39:00 PM
rajnath singh

राजनाथ सिंह ने डीआरडीओ को दी बधाई (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली :

चीन (China) सीमा पर टेंशन के बीच भारत नए-नए हथियारों का टेस्ट कर रहा है. ताकि युद्ध जैसी स्थिति बनती है तो ड्रैगन को मुंहतोड़ जवाब दिया जा सके. इसकी के तहत डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) ने मंगलवार को 2 टेस्ट किए. पहला MBT अर्जुन टैंक से लेजर-गाइडेड ऐंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (AGTM) का टेस्‍ट फायर किया गया. दूसरा ABHYAS का सफल फ्लाइट टेस्‍ट हुआ.

DRDO के इस सफल परीक्षण के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने डीआरडीओ को बधाई दी. राजनाथ सिंह ने कहा, 'डीआरडीओ को लेजर-गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल के सफलतापूर्वक परीक्षण फायरिंग के लिए बधाई. भारत को टीम DRDO पर गर्व है जो निकट भविष्य में आयात निर्भरता को कम करने की दिशा में तेजी से काम कर रहा है.'

बता दें कि यह मिसाइल डीआरडीओ के आर्मामेंट रिसर्च ऐंड डेवलपमेंट इस्‍टैब्लिशमेंट (ARDE) के कैनन लॉन्‍ड मिसाइल डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत बनाई गई है.फिलहाल इसे अर्जुन टैंक से लॉन्‍च किया गया है.

इसे भी पढ़ें:दिल्ली आ रहे किसानों पर दागे गए आंसू गैस के गोले, नोएडा में भी लगी रोक

डीआरडीओ ने मंगलवार को ओडिशा में 'अभ्‍यास' हाई स्‍पीड एक्‍सपेंडेबल एरियल टारगेट (HEAT) का बालासोर में टेस्‍ट किया था. इससे पहले मई 2019 में भी इसका सफल टेस्‍ट हो चुका है.

और पढ़ें: ग्रेच्युटी के लिए अब नहीं करना होगा पांच साल का इंतजार, बिल पास

यह मिसाइल वेहिकल 5 किलोमीटर की ऊंचाई पर उड़ सकता है. इसकी रफ्तार आवाज की रफ्तार से आधी है. इसे 30 मिनट तक ऑपरेट करने की क्षमता है. इसमें 2 जी की भी क्षमता है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 23 Sep 2020, 03:39:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live Scores & Results

वीडियो

×