News Nation Logo
भारत में अब तक कोविड के 3.46 करोड़ मामले सामने आए हैं: लोकसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हरियाणा में अगले आदेश तक गुरुग्राम, सोनीपत, फरीदाबाद और झज्जर के स्कूलों को बंद करने का आदेश Omicron Update: 31 देशों में 400 से ज्यादा संक्रमण के मामले मलेशिया में ओमीक्रॉन के पहले मामले की पुष्टि अमेरिका में ओमीक्रॉन से संक्रमण के मामले बढ़कर 8 हुए केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: CCTV के मामले में दिल्ली दुनिया में नंबर 1 केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में महिलाएं पूरी तरह सुरक्षित केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस: दिल्ली में 1.40 कैमरे और लगाए जाएंगे थोड़ी देर में ओमीक्रॉन पर जवाब देंगे स्वास्थ्य मंत्री IMF की पहली उप प्रबंध निदेशक के रूप में ओकामोटो की जगह लेंगी गीता गोपीनाथ 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों के सांसदों का गांधी प्रतिमा के पास विरोध-प्रदर्शन यमुना एक्‍सप्रेसवे पर सुबह सुबह बड़ा हादसा, मप्र पुलिस के दो जवानों समेत चार की मौत जयपुर में दक्षिण अफ्रीका से लौटे एक ही परिवार के चार लोग कोरोना संक्रमित

मनमोहन सरकार को बदनाम करने के लिए बोले गए झूठ, कांग्रेस का बीजेपी पर हमला

पूर्व नियंत्रक एवं महा लेखा परीक्षक (CAG) विनोद राय के 2जी स्पेक्ट्रम (Spectrum) आवंटन मामले को लेकर किए एक दावे पर पूर्व सांसद संजय निरुपम (Sanjay Nirupam) से माफी मांगने के बाद कांग्रेस ने हमला बोला है.

Written By : मनोज शर्मा | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 29 Oct 2021, 06:54:13 AM
Manmohan Singh

कैग विनोद राय ने 2जी स्पैक्ट्रम पर मांगी माफी. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • 2जी स्पैक्ट्रम मामले में विनोद राय ने संजय निरुपम से मांगी माफी
  • अनजाने और गलत तरीके से निरुपम के नाम का उल्लेख किया गया
  • कांग्रेस ने मोदी सरकार पर झूठ बोल बदनाम करने का आरोप लगाया

नई दिल्ली:

पूर्व नियंत्रक एवं महा लेखा परीक्षक (CAG) विनोद राय के 2जी स्पेक्ट्रम (Spectrum) आवंटन मामले को लेकर किए एक दावे पर पूर्व सांसद संजय निरुपम (Sanjay Nirupam) से माफी मांगने के बाद कांग्रेस ने हमला बोला है. मुख्य विपक्षी पार्टी ने कहा कि राय के इस माफीनामे से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) और पूर्ववर्ती यूपीए सरकार (UPA Government) को बदनाम करने के लिए चलाए गए सारे झूठ बेनकाब हो गए हैं. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘सच्चाई की पुष्टि हुई है. डॉक्टर मनमोहन सिंह और संप्रग सरकार को बदनाम करने के लिए बोले गए झूठ इस हलफनामे से बेनकाब हो गए हैं. इस लड़ाई के लिए संजय निरुपम की सराहना करता हूं.’ उन्होंने सवाल किया, ‘क्या समाचार चैनलों को माफी नहीं मांगनी चाहिए?'

जानें पूरा मामला
विनोद राय ने 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन मामले में सीएजी रिपोर्ट में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का नाम शामिल न करने के लिए दबाव बनाने वालों में कांग्रेस नेता संजय निरुपम के नाम के उल्लेख पर बिना शर्त उनसे माफी मांग ली है. राय ने अपनी किताब में निरुपम के नाम का उल्लेख उन सांसदों के साथ किया था, जिन्होंने कैग की रिपोर्ट में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का नाम नहीं लेने के लिए उन पर कथित तौर पर दबाव डाला था. 2014 में पूर्व सीएजी ने अपनी किताब में आरोप लगाए थे और मीडिया को दिए साक्षात्कारों में इसे दोहराया था, जिसके बाद निरुपम ने राय के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था. पटियाला हाउस में मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत ने राय की माफी स्वीकार करते हुए निरुपम का बयान दर्ज कर मामले का निपटारा कर दिया है.

यह भी पढ़ेंः दिल्ली के टिकरी बॉर्डर से हटने लगे बैरिकेडिंग, 10 महीने बाद खुलेगा रास्ता!

पूर्व सीएजी ने कहा, अनजाने में हुआ
निरुपम के वकील आर के हांडू ने बताया, ‘विनोद राय को मामले में बरी कर दिया गया है. चूंकि निरुपम ने उनकी माफी स्वीकार कर ली है, इसलिए उनका बयान दर्ज करने के बाद मामले का निपटारा कर दिया गया है.’ पूर्व सीएजी ने अदालत में दायर एक हलफनामे में कहा है कि उन्होंने अनजाने में और गलत तरीके से निरुपम के नाम का पहले उल्लेख किया. उन्होंने अपने हलफनामे में कहा, ‘मैंने अनजाने में और गलत तरीके से संजय निरुपम के नाम का उल्लेख उन सांसदों में से एक के रूप में किया था, जिन्होंने लोकलेखा समिति (पीएसी) की बैठकों में या संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की बैठकों से इतर, 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन पर कैग की रिपोर्ट से तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का नाम बाहर रखने के लिए दबाव डाला था.’ पूर्व सीएजी ने यह भी कहा है कि निरुपम के खिलाफ उनके द्वारा दिए गए बयान तथ्यात्मक रूप से गलत हैं.

First Published : 29 Oct 2021, 06:52:16 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.