News Nation Logo

EVM पर सवाल उठाने वालों को कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम ने दिया जवाब, बोले- दोष देना बंद करें

बिहार विधानसभा चुनाव के रुझानों में महागठबंधन के पिछड़ने के बाद एक बार फिर ईवीएम (इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन) पर सवाल खड़े होने शुरू हो गए हैं. ईवीएम को लेकर सबसे पहले आवाज कांग्रेस से ही उठी है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 10 Nov 2020, 03:58:48 PM
Karti Chidambaram

EVM पर सवाल उठाने वालों को कांग्रेस सांसद ने ही दिया जवाब, कही ये बात (Photo Credit: फ़ाइल फोटो)

नई दिल्ली:

बिहार विधानसभा चुनाव के रुझानों में महागठबंधन के पिछड़ने के बाद एक बार फिर ईवीएम (इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन) पर सवाल खड़े होने शुरू हो गए हैं. ईवीएम को लेकर सबसे पहले आवाज कांग्रेस से ही उठी है. कांग्रेस प्रवक्ता उदित राज ने  ईवीएम को हैक किए जाने की बात कही है. उन्होंने सवाल खड़े करते हुए कहा कि जब उपग्रह को नियंत्रित किया जा सकता है तो फिर ईवीएम हैक क्यों नहीं की जा सकती. हालांकि कांग्रेस के अंदर से ही ईवीएम पर उठते सवालों पर जवाब सामने आ गया है.

यह भी पढ़ें: इस वजह से चूक गई राजद, भीड़ को वोटों में न बदल पाए तेजस्वी यादव

बिहार के चुनावी रूझानों पर उदित राज ने ईवीएम पर सवाल खड़े करते हुए ट्वीट कर कहा, 'जब मंगल ग्रह और चांद की ओर जाते उपग्रह की दिशा को धरती से नियंत्रित किया जा सकता है, तो ईवीएम हैक क्यों नहीं की जा सकती?' कांग्रेस नेता ने यह सवाल भी किया, 'अमेरिका में अगर ईवीएम से चुनाव होता तो क्या डोनाल्ड ट्रम्प हार सकते थे?'

इसके बाद जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव ने भी हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ा है. उन्होंने कहा है कि ईवीएम से चुनाव नहीं होना चाहिए. हालांकि ईवीएम पर सवाल उठाने वालों को कांग्रेस के अंदर से ही जवाब दिया गया है. कांग्रेस सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिंदबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम ने ईवीएम पर सवाल खड़े करने वालों पर पलटवार किया है.

यह भी पढ़ें: तेजस्वी का सपना रह जाएगा अधूरा! RJD 65 सीट पर आगे तो कांग्रेस 20 पर 

कार्ति चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, 'किसी भी चुनाव के परिणाम जो भी हों, ईवीएम पर आरोप लगाना बंद होना चाहिए. मेरे अनुभव में ईवीएम प्रणाली मजबूत, सटीक और भरोसेमंद है.' इतना ही नहीं, उन्होंने आगे कहा, 'चुनावों में हम जीते (1984,89,91,96,98,2004,2009,2019). हमें किसी भी अन्य उम्मीदवारों से अधिक मिला और जब हम हार गए (1999, 2014) तो किसी और को हमसे अधिक वोट मिले. शिवगंगा में यही हुआ है.'

उल्लेखनीय है कि बिहार विधानसभा चुनाव के लिए चल रही मतगणना के रुझानों के अनुसार, दोपहर के समय तक 243 सीटों में से राजग 127 सीटों पर आगे चल रहा है और गठबंधन में भाजपा अपनी सहयोगी पार्टी नीतीश कुमार नीत जद (यू) से बेहतर प्रदर्शन करती दिख रही है. भारत निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, विपक्षी महागठबंधन 102 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है.

First Published : 10 Nov 2020, 03:58:48 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो