News Nation Logo

बड़ी खबरः अगले महीने से स्कूल खोलने की योजना, मोदी सरकार का ये है पूरा प्लान

कोरोना वायरस (Corona Virus) के कारण चार महीने से बंद स्कूल (School) और कॉलेजों (College) को खोलने की तैयारी शुरू हो गई है. केंद्र सरकार ने इसके लिए खास तैयारी की है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 08 Aug 2020, 01:28:54 PM
School

अगले महीने से स्कूल खोलने की योजना, मोदी सरकार का ये है पूरा प्लान (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के कारण पिछले चार महीने से बंद स्कूल और कॉलेजों को खोलने की अब तैयारी शुरू कर दी गई है. हालांकि अभी सवाल है कि स्कूलों को किस तरह खोला जाए. यहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के पास पढ़ाई कैसे कराई जाए. कोरोना के मामले 20 लाख के पार जाने के बाद अभिभावकों को भी इसे लेकर चिंता बनी हुई है.   

यह भी पढ़ेंः लापरवाही तो नहीं है केरल विमान हादसे के पीछे, DGCA की इन चेतावनियों की अनदेखी हुई

केंद्र सरकार स्कूल खोलने की बना रही योजना
जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार स्कूलों को सितंबर से खोलने की योजना बना रही है. सरकार की योजना है कि सितंबर से नवंबर तक चरणबद्ध तरीके से खोला जाए. सूत्रों के मुताबिक सरकार पहले चरण में 10वीं से 12वीं के छात्रों के लिए स्कूलों को खोलने का फैसला से सकती है. इसके बाद 6ठीं से 9वीं के लिए स्कूलों को खोला जाएगा. स्कूल में चार सेक्शन होंगे, तो एक दिन में सिर्फ दो सेक्शन में पढ़ाई होगी ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा जा सके.

कई शिफ्ट में चलेंगे स्कूल
सरकार की योजना है कि स्कूलों में शिफ्ट में पढ़ाई कराई जाए. साथ ही स्कूलों के समय को भी 5-6 घंटे से घटाकर 2-3 घंटा कर दिया जाए. शिफ्ट के बीच में ही स्कूलों को सैनिटाइज़ करने के लिए भी बीच में एक घंटे का वक्त दिया जाएगा. इसके अलावा स्कूलों को 33 फीसदी स्कूल स्टाफ और छात्रों के साथ रन किया जाएगा. हालांकिसरकार प्राइमरी और प्री-प्राइमरी स्तर के छात्रों के लिए स्कूलों को खोलना उचित नहीं समझती. ऐसी स्थिति में ऑनलाइन कक्षाएं ही ठीक हैं. माना जा रहा है इसके संबंध में गाइडलाइन्स को इस महीने के अंत तक नोटिफाई किया जा सकता है. हालांकि, इसके बारे में अंतिम फैसला राज्यों पर छोड़ा जा सकता है.

यह भी पढ़ेंः पीएम मोदी का 15 अगस्त को भाषण, अगर यह कहा तो देश में आ जाएगा भूचाल

अभिभावकों के लिया जा रहा फीडबैक
सरकार इस फैसले को खुद नहीं लेना चाहती है. अभिभावकों की चिंताओं के जुड़े इस फैसले में उन्हें भी शामिल किया जा रहा है. राज्य के शिक्षा सचिवों को इस संबंध में पिछले हफ्ते एक पत्र भेजा गया जिसमें पैरेंट्स से स्कूलों को खोले जाने के बारे में फीडबैक लेने को कहा गया था और यह पता करने को कहा गया था कि पैरेंट्स कब तक स्कूलों को चाहते हैं कि खुलें. इस मामले में कई राज्यों ने अपना असेसमेंट भेज दिया है. इसके अनुसार हरियाणा केरल, बिहार, असम और लद्दाख ने अगस्त में राजस्थान, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश ने सितंबर में स्कूलों को खोलने की बात कही है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Aug 2020, 01:28:54 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.