News Nation Logo

रेप के आरोपी और भगोड़े बाबा नित्यानंद ने शुरू किया रिजर्व बैंक ऑफ कैलाशा, 22 अगस्त को लॉन्च करेगा करेंसी

बाबा नित्यानंद (Nithyananda) ने कहा कि संबंधित सभी विधि-विधान पूरे कर लिए गए हैं और करेंसी की घोषणा भी गणेश चतुर्थी (22 अगस्त 2020) के मौके पर की जाएगी.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 19 Aug 2020, 02:38:55 PM
Nityananda

बाबा नित्यानंद (Nithyananda) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

रेप के आरोपी और भगोड़े बाबा नित्यानंद (Nithyananda) उर्फ जनार्दन शर्मा ने रिजर्व बैंक ऑफ कैलाशा (Reserve Bank of Kailasa) को लॉन्च करने का ऐलान किया है. इसके अलावा वह जल्द ही एक करेंसी भी शुरू करने जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नित्यानंद ने एक वीडियो जारी करके यह दावा किया है. वीडियो में नित्यानंद ने दावा किया है कि रिजर्व बैंक कैलाशा को स्थापित कर दिया गया है. नित्यानंद ने कहा कि संबंधित सभी विधि-विधान पूरे कर लिए गए हैं और करेंसी की घोषणा भी गणेश चतुर्थी (22 अगस्त 2020) के मौके पर की जाएगी.

यह भी पढ़ें: कोरोना संकट के बीच सितंबर से खुल सकते हैं स्कूल, केंद्र कर रही विचार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नित्यानंद ने अपना एक अलग देश बना लिया है. उसने इस देश का नाम 'कैलाशा' रखा है. जानकारी के मुताबिक कैलाशा पूरी तरह से एक हिंदू राष्ट्र है और उसका राष्ट्रीय पशु नंदी है. यही नहीं 'कैलाशा' का अपना पासपोर्ट और झंडा भी है. झंडे पर नित्यानंद की तस्वीर के साथ नंदी बैल है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नित्यानंद का सपना एक धार्मिक अर्थव्यवस्था के रूप में विकसित करने का है.

यह भी पढ़ें: कोरोना के 64 हजार से ज्यादा नए मामले, हजार से ज्यादा लोगों की मौत

किस जगह है तथाकथित 'कैलाशा'
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लैटिन अमेरिका में इक्वाडोर के पास नित्यानंद ने एक द्वीप को खरीदा है और उसी को उसने अपना देश 'कैलाशा' घोषित किया है. बता दें कि 'कैलाशा' की अपनी एक वेबसाइट kailaasa.org भी है. इसके अलावा नित्यानंद का विकिपीडिया के ऊपर एक पेज है. 'कैलाशा' की वेबसाइट पर लिखा है कि कैलाशा दुनिया भर के हिंदुओं द्वारा फैलाए गए सीमाओं के बिना एक राष्ट्र है, जिन्होंने अपने ही देशों में प्रामाणिक रूप से हिंदू धर्म का अभ्यास करने का अधिकार खो दिया है.

यह भी पढ़ें: सऊदी अरब को मनाने पहुंचे थे PAK आर्मी चीफ बाजवा, हो गई घोर बेइज्‍जती

बता दें कि 2010 में नित्यानंद की एक सेक्स CD सामने आई थी. उसके बाद उसे अरेस्ट भी किया गया था. बाद में वह जमानत पर छूट कर बाहर भी आ गया था. वर्ष 2012 में उसके ऊपर बलात्कार के आरोप भी लगे और अभी भी उसका ट्रायल चल रहा है. यही नहीं गुजरात में भी उसके ऊपर नाबालिग लड़के लड़कियों के बंधक बनाने और उन्हें टॉर्चर करने के आरोप में आपराधिक मामले चल रहे हैं. पुलिस के मुताबिक नित्यानंद 2018 के आखिरी महीनों के दौरान देश को छोड़कर भाग गया था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 19 Aug 2020, 02:36:54 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.