News Nation Logo

असम में दर्दनाक वारदात, संदिग्ध उग्रवादियों ने 5 ट्रक ड्राइवरों को जिंदा जलाया

गुरुवार रात लंका रोड स्थित दिसमाओ गांव के पास संदिग्ध उग्रवादी पहुंचे. उन्होंने वहां से गुजर रहे सात ट्रकों को आग के हवाले कर दिया.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 27 Aug 2021, 01:34:47 PM
fire

असम में दर्दनाक वारदात, संदिग्ध उग्रवादियों ने 5 ट्रक ड्राइवरों को जिं (Photo Credit: ANI)

highlights

  • असम में संदिग्ध उग्रवादियों ने बड़ी घटना को दिया अंजाम
  • पांच ट्रक ड्राइवरों को जिंदा जलाया
  • सात ट्रक को भी किया आग के हवाले

नई दिल्ली :

असम के दीमा हसाओ जिले से एक बेहद ही दर्दनाक वारदात सामने आया है. यहां पर संदिग्ध उग्रवादियों ने सात ट्रकों में आग लगा दी. संदिग्ध उग्रवादियों का तांडव यही नहीं खत्म हुआ. उन्होंने पांच ट्रक ड्राइवरों को जिंदा जलाकर मार डाला. सूचना पर मौके पर पहुंची पुल‍िस ने पांच शव बरामद क‍िए हैं. बताया जा रहा है कि गुरुवार रात लंका रोड स्थित दिसमाओ गांव के पास संदिग्ध उग्रवादी पहुंचे. उन्होंने वहां से गुजर रहे सात ट्रकों को आग के हवाले कर दिया. इसके साथ ही पांच ड्राइवरों को जिंदा जला दिया. तीन ड्राइवर जख्मी भी हो गए हैं.

गुवाहाटी में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि डीएनएलए उग्रवादियों ने छह ट्रकों में आग लगाने से पहले ट्रक ड्राइवरों और अन्य लोगों पर कई राउंड गोलियां चलाईं. जब उग्रवादियों ने अत्याधुनिक हथियारों से उन पर गोलियां चलाईं तो ट्रकों के कम से कम सात चालक और सहायक पास के जंगलों में भागने में सफल रहे.

और पढ़ें:प्रेम विवाह के बाद गांव जाते ही दूसरी शादी की फिराक में था युवक, पहली पत्नी ने किया यह काम

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.  इसके साथ ही सुरक्षा बलों ने पहाड़ी जिले में उग्रवादियों को पकड़ने के लिए बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान शुरू किया है, जो गुवाहाटी से लगभग 300 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में है. 

तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि कैसे एक के बाद एक ट्रक जलकर खाक हो चुके हैं. इतना ही रात की जो तस्वीर है उसमें ट्रक धू-धू करके जल रही है. ट्रकों से सीमेंट निर्माण संयंत्र के लिए कोयला और अन्य सामग्री ले जाया जा रहा था.

First Published : 27 Aug 2021, 12:12:47 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.