News Nation Logo

हिंदू तीन-तीन रखैल रखते हैं... हेट स्पीच पर AIMIM नेता के खिलाफ केस

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 16 Oct 2022, 11:03:48 AM
Shaukat Ali

हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलने पर एआईएमआईएम नेता पर केस दर्ज. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • संभल में पार्टी रैली में शौकत अली ने हिंदुओं के खिलाफ उगला था जहर
  • हिंदुओं पर एक शादी कर तीन-तीन रखैल रखने का लगाया था आरोप
  • बाद में विवाद बढ़ने पर दी थी सफाई, अब हेट स्पीच का केस हुआ दर्ज

लखनऊ:  

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहदुउल मुस्लिमीन (AIMIM) पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153ए यानी धर्म, जाति, जन्म स्थान, भाषा आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देना और 295ए के तहत धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कार्य करने का मामला दर्ज किया गया है. गौरतलब है कि संभल में एक रैली में शौकत अली ने हिंदुओं (Hindu)के खिलाफ जमकर जहर उगला था. शौकत अली ने हिंदुओं की तुलना कीड़े-मकोड़ों से कर कहा था, 'मुसलमानों (Muslims) पर बहुविवाह प्रथा का आरोप लगता है. सच्चाई यह है कि हम दो विवाह करने पर भी समाज में दोनों पत्नियों को सम्मान देते हैं. इसके उलट हिंदू शादी तो एक करते हैं, लेकिन रखैल तीन-तीन रखते हैं. इनके बच्चों के मां-बाप का भी पता नहीं होता है. इस हेट स्पीच को लेकर अब शौकत अली के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. 

832 सालों तक करते रहे हिंदू जी हुजूरी
एआईएमआईएम की रैली में शौकत अली ने यह भी कहा था, 'आप जैसे कीड़ों पर 832 वर्षों तक हमारा शासन रहा है और आप हाथ जोड़कर जी हुजूरी करते थे और अब आप हमें धमका रहे हैं,' एआईएमआईएम नेता ने जोधाबाई के साथ अकबर की शादी का जिक्र करते हुए कहा, 'हमसे ज्यादा धर्मनिरपेक्ष कौन है? अकबर ने जोधा बाई से शादी की. हम आपके साथ-साथ आपके लोगों का भी उत्थान कर रहे हैं, लेकिन आपको एक समस्या है. एक साधु कहता है कि मुसलमानों को मार डाला जाना चाहिए. क्यों क्या हम गाजर, मूली, प्याज की तरह हैं?' 

यह भी पढ़ेंः ED अपने फैसले करने के लिए स्वतंत्र, कोई राजनीतिक हथियार नहींः सीतारमण

बाद में दी सफाई भी नहीं आई काम
यही नहीं भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर होते हुए वह रौं में बह गए और कह गए, 'जब बीजेपी कमजोर होती है तो मुसलमानों के पीछे  पड़ती है. कभी कहती है कि मुसलमानों के और बच्चे हैं, कभी कहती है कि हम दो बार शादी करते हैं. हां, यह सच है कि हम दो बार शादी करते हैं, लेकिन दोनों पत्नियों को सम्मान देते हैं. आप एक से शादी करते हैं और तीन रखैल रखते हैं और किसी को पता नहीं चलता. आप उनमें से किसी को भी सम्मान नहीं देते.' बाद में उनके बयान पर विवाद बढ़ने पर शौकत अली ने सफाई देते हुए कहा था कि उनका बयान किसी विशेष धर्म के बारे में नहीं था, बल्कि ऐसा करने वालों के बारे में था. गौरतलब है असदुद्दीन ओवैसी के नजदीकी शौकत अली की टिप्पणी पर पार्टी ने कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है.

First Published : 16 Oct 2022, 09:16:45 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.