News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

AIIMS डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने चेताया, कहा- Omicron से ऐसे करें बचाव

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली के डायरेक्टर ने कहा​ कि कोरोना महामारी (Corona Pendemic) अभी खत्म नहीं हुई है, हालांकि अच्छी बात ये है कि फिलहाल हम बेहतर स्थिति में हैं. 

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 30 Dec 2021, 12:45:53 PM
Randeep Guleria1

डॉ रणदीप गुलेरिया (Photo Credit: twitter)

highlights

  • एम्स के एक वीडियो संदेश में डॉ गुलेरिया ने कहा
  • कारगर तरीका है शारीरिक दूरी बनाना है
  • कहा, कोरोना का यह वेरिएंट सुपर स्प्रेडर है

नई दिल्ली:

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली के डायरेक्टर (AIIMS Director) डॉ रणदीप गुलेरिया ने गुरुवार को अपने नए साल के संदेश में कहा कि देश भर में  कोरोनो वायरस (Corona Virus) के ओमीक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) के बढ़ते मामलों के बीच लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं है. उन्होंने इस दौरान लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है. एम्स के एक वीडियो संदेश में डॉ गुलेरिया ने कहा कि वे इस मौके पर देश के सभी लोगों की खुशी, बेहतर स्वास्थ्य और समृद्ध 2022 की कामना करते हैं. उन्होंने कहा  कि जैसे-जैसे हम आगे बढ़ते हैं, हमारे लिए यह समझना जरूरी है कि कोरोना महामारी (Corona Pendemic) अभी खत्म नहीं हुई है, हालांकि अच्छी बात ये है कि फिलहाल हम बेहतर स्थिति में हैं. 

ये भी पढ़ें: मोदी के मुरीद हुए शरद पवार, कहा- हाथ में लिए काम को पूरा करके ही दम लेते हैं

डॉक्टर गुलेरिया के अनुसार, हमारे पास बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं, जिन्हें टीका लगाया गया है, देश में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. इसलिए, हमें यह समझने की जरूरत है कि मास्क पहनने की काफी आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि फिलहाल कोरोना वायरस से बचने का एकमात्र और कारगर तरीका है शारीरिक दूरी बनाना है. कोरोना का यह वेरिएंट सुपर स्प्रेडर है, इसलिए भीड़ भाड़ वाली जगहों से दूर रहें  और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें.

गौरतलब है कि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय का कहना है कि भारत ने बुधवार तक 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 781 ओमीक्रॉन के मामले दर्ज किए गए हैं. नए वेरिएंट के सबसे अधिक मामले दिल्ली में सामने आ रहे हैं. यहां ओमीक्रॉन के सबसे ज्यादा 283 मामले दर्ज करे गए हैं. इसके बाद महाराष्ट्र में 167 लोग इस वेरिएंट का शिकार हुए हैं. गुजरात में 73, केरल में 65, तेलंगाना में 62, राजस्थान में 46, कर्नाटक में 34 और तमिलनाडु में ओमीक्रॉन वेरिएंट के 34 मामले दर्ज किए जा चुके हैं.

First Published : 30 Dec 2021, 12:16:39 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.