News Nation Logo

नकवी व RCP सिंह के इस्तीफे के बाद ईरानी व सिंधिया की बढ़ी जिम्मेदारी

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 06 Jul 2022, 11:50:44 PM
smriti irani

Smriti Irani (Photo Credit: File Photo )

highlights

  • स्मृति ईरानी को मिला अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय का विभाग
  • ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिला इस्पात मंत्रालय विभाग 

नई दिल्ली:  

केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी को अब अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय का विभाग भी सौंप दिया गया है. इसके साथ ही नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को इस्पात मंत्रालय का प्रभार मिल गया है. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने अल्पसंख्यक मामले विभाग से इस्तीफा दे दिया है. मुख्तार अब्बास नकवी आज आखिरी बार कैबिनेट मीटिंग में शामिल हुए थे. इस मीटिंग में पीएम मोदी ने अल्पसंख्यक मंत्री के तौर पर नकवी के योगदान की प्रशंसा की. 

इसके साथ ही इस्पात मंत्री आरसीपी सिंह भी आज अपनी आखिरी कैबिनेट बैठक में शामिल हुए थे. इस बैठक में पीएम मोदी ने दोनों मंत्रियों को विदाई देते हुए कहा कि दोनों मंत्री रहते हुए देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है. 

सिंधिया ने जताया पीएम मोदी का आभार

 

इन दोनों केंद्रीय मंत्रियों का राज्यसभा का कार्यकाल 7 जुलाई को समाप्त हो रहा है. मुख्तार अब्बास नकवी बीजेपी के राज्यसभा के सदस्य थे. हालांकि बीजेपी ने इस बार उन्हें राज्यसभा नहीं भेजा है. ऐसा माना जा रहा है कि बीजेपी उन्हे कोई  बड़ी जिम्मेदारी सौंप सकती है. 

मोदी मंत्रिमंडल में जदयू कोटे से मंत्री आरसीपी सिंह का भी 7 जुलाई को राज्यसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है. ये दोनों नेता अब किसी भी सदन के सदस्य नहीं होंगे. हालांकि ये दोनों बिना सांसद रहे भी 6 महीनों तक मंत्री रह सकते हैं. लेकिन मोदी मंत्रिमंडल से इनकी विदाई हो गई है. 

यह भी पढ़ें: कुमारस्वामी ने भाजपा के पारिवारिक राजनीति के आरोपों का दिया जवाब

मोदी मंत्रिमंडल में 8 साल शामिल रहे नकवी 

नकवी 2010 से 2016 तक यूपी से राज्यसभा सदस्य रहे. 2016 में वह झारखंड से राज्यसभा में चुनकर आए. साल 1998 में पहली बार नकवी लोकसभा चुनाव जीते और अटल बिहारी सरकार में सूचना और प्रसारण मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाए गए थे. उसके बाद 2014 में उन्हें मोदी सरकार में अल्पसंख्यक मामलों और संसदीय मामलों के राज्य मंत्री बनाया गया. 2016 में नजमा हेपतुल्ला के इस्तीफे के बाद उन्हें अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार सौंपा गया. 2019 में मोदी कैबिनेट में उन्हें दोबारा अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय मिला. 

बीजेपी में शामिल हो सकते हैं आरसीपी

ऐसी चर्चा है कि आरसीपी सिंह बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. हालांकि एक बीजेपी ने स्पष्ट किया है कि अभी आरसीपी सिंह बीजेपी में शामिल नहीं हुए हैं. 

First Published : 06 Jul 2022, 11:50:44 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.